मृत्यु के बाद स्व. मदन मोहन के संगीत का पहला गीत रिकॉर्ड

1 min


mmsings

मायापुरी अंक 52,1975

भारतीय फिल्मी दुनिया के इतिहास में तो क्या, विश्व फिल्मी दुनिया के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी स्व. संगीत-निर्देशक के संगीत का गीत रिकॉर्ड किया गया है निर्माता-निर्देशक चेतन आनंद ने जो गज़ल के बादशाह स्व. मदन मोहन को न भुला सके और उनके द्वारा पहले से तैयार की गयी धुन में ही लिखे गये गीत को रिकॉर्ड बद्ध किया यह गीत उनकी फिल्म ‘साहिब बहादुर’ के लिए रिकॉर्ड किया गया पहला गीत है। इस गीत की रिकॉर्डिंग के अवसर पर स्व. मदन मोहन के बच्चे भी उपस्थित थे जो फिल्म सेन्टर में किशोर कुमार के स्वरों में स्वर बद्ध किया गया है। गीतकार हैं राजेन्द्र कृष्ण चेतन आनंद की इस फिल्म की संगीत निर्देशक स्व.मदन मोहन ही रहेंगे। स्मरण रहे चेतन आनंद और स्व. मदन मोहन का गहरा साथ रहा है। स्व. मदन मोहन ने चेतन आनंद की ‘हकीकत’ ‘आखिरी खत’ ‘हीर रांझा’ ‘हंसते जख्म’ और ‘हिंदुस्तान’ की ‘कसम’ जैसी उल्लेखनीय फिल्मों में संगीत दिया था। भला, अब वे उन्हें कैसे भुला सकते हैं?


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये