जितनी मजबूत बनती है उतनी अंदर से होती नही हैं कुछ अभिनेत्रियाँ – महेश भट्ट

1 min


mahesh-bhatt.gif?fit=650%2C450&ssl=1

फिल्मकार महेश भट्ट ने टीवी अभिनेत्री प्रत्यूषा बनर्जी के कथित रूप से आत्महत्या करने की घटना के बारे में बात करते हुए कहा कि फिल्मों एवं टीवी की शीर्ष अभिनेत्रियां सार्वजनिक रूप से महिला सशक्तिकरण की बातें तो जरूर करती हैं, लेकिन निजी जिंदगी में वे घरेलू सहायकों से भी बुरी स्थिति झेलती हैं।

महेश भट्ट ने कहा, ‘मैंने मनोरंजन जगत में देखा कि अनगिनत अभिनेत्रियां जिनके पास बहुत सारी धन दौलत है, बहुत ही बेबाक होने और मुद्दों पर अच्छी राय रखने और महिला सशक्तिकरण पर अच्छी से अच्छी बातें कहने के बावजूद पर्सनल जिंदगी में घरेलू सहायकों से भी बुरी स्थिति में रहती हैं।’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये