बड़ी दूर से आये हैं में मकर संक्रांति का जश्न

1 min


सब टीवी की लोकप्रिय एलियन कॉमेडी सीरीज ‘बड़ी दूर से आये हैं‘ में एक एलियन परिवार की आकर्षक एवं हास्यप्रद कहानी का चित्रण किया गया है।यह परिवार ‘धरती‘ पर मनुष्यों के बीच अपना स्थान बनाने तथा मानव स्वभाव एवं उनके व्यवहार की जटिलताओं को भी समझने की कोशिश करता है। हालिया फेस्टिव ट्रैक में, समूची सनशाइन सोसायटी जोश एवं उत्साह के साथ मकर संक्रांति का जश्न मना रही है। घोटाला परिवार भी एक बार फिर एक अलग ट्विस्ट के साथ पंतंगों के त्यौहार का जश्न मना रहा है।

IMG_9381
दीपक पारेख ऊर्फ मुरिधर ओझा कॉलोनी में हुई एक छोटी सी गलतफहमी के कारण उदास है और वह इस त्यौहार में शामिल नहीं होने का फैसला करता है। कॉलोनी के सदस्य ओझा से कहते हैं कि उसके बिना कोई भी सदस्य त्योहार नहीं मनायेगा और उसे खुश करने तथा सनशाइन कॉलोनी के सदस्यों को एकजुट करने के लिये घोटाला परिवार मिस्टर ओझा के चेहरे के साथ पतंग डिजाइन करने का फैसला करता है। अब क्या होगा? क्या श्री ओझा इससे खुश होंगे? दीपक पारेख ऊर्फ मुरिधर ओझा ने अपनी खुशी जाहिर करते हुये कहा, ‘‘संक्रांति का जश्न खुशी और उत्साह के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है और इस दिन से सूर्य की उत्तरायण यात्रा शुरू होती है।
IMG_9411

IMG_9377

पतंग उड़ाना एक शानदार परम्परा है और मुझे बचपन से ही यह काफी पसंद है। इस ट्रैक की शूटिंग के दौरान हम सभी कलाकारों ने काफी मस्ती की। वास्तव में ऐसा लगा ही नहीं कि हम सेट पर शूटिंग कर रहे हैं। आकाश में रंग-बिरंगी पतंगों और चारों ओर शोर-गुल देखकर काफी अच्छा महसूस हो रहा था। मैंने भी अपने सेट पर कुछ पतंगें उड़ाईं और यह मजेदार अनुभव था। वास्तव में मेरे निर्देशक गुजरात के हैं और वहां पर पतंगबाजी काफी लोकप्रिय है। हम सभी को बहुत अच्छा लगा।‘‘ क्या रंग-बिरंगी पतंगें सनशाइन कॉलोनी के सदस्यों के जीवन में खुशियां लायेंगी? क्या श्री ओझा की होंठों पर मुस्कान आ पायेगी?
IMG_9359

IMG_9432


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये