‘बुधिया सिंह – बॉर्न टू रन’ के लिए ​मनोज बाजपेयी ने सीखी उड़िया भाषा ​  ​​ ​

1 min


मनोज बाजपेयी, वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स की आगामी फिल्म ‘बुधिया सिंह-बॉर्न टू रन’ में दिखाई देंगे ‘यह फिल्म एक प्रेरणादायक बायोपिक है – यह फिल्म दुनिया के सबसे कम उम्र के मैराथन धावक की प्रेरणादायक सच्ची कहानी पर आधारित है।​ राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता ​ने ​सिर्फ मार्शल आर्ट फार्म​ ही नहीं बल्कि ​उनकी भूमिका के लिए जूडो ​भी सीखा, क्योंकि ​यह ​फिल्म भुवनेश्वर में आधारित है ​इसीलिए मनोज का ​उड़िया भाषा सीखना ​भी जरुरी ​था। फिल्म मे उड़िया भाषा में साफ बोलना था  साथ ही मनोज को उड़िया भाषा का लहजा भी सीखना था, दिलचस्प बात है की फिल्म निर्देशक सौमेन्द्र पाधी ओड़िसा से है तो उन्होंने ही मनोज को भाषा सिखाने में मदद की। ​

मनोज एक वर्सटाइल और मेथड एक्टर है उन्होंने काफी समय भाषा सीखने के लिए सेट पर बिताया क्योंकि उन्हें पता था की कठिन भाषाओं में से उड़िया एक कठिन भाषा है। ​सूत्रों की माने तो “मनोज बुधिया सिंह के कोच बिरंचि दास का किरदार निभाने लिए उत्सुक थे, ​उन्हें  किरादर के बारे मैं हर बात की जानकारी थी। सौमेन्द्र ने उड़िया भाषा तथा लहजे की हर बारीक़ जानकारी मनोज को दी, उनकी इस मदद से फिल्म के कई सीन में मनोज ओड़िसा के ही है ऐसा प्रतीत होता है।

SHARE

Mayapuri