फिल्म ‘अलीगढ़’ समलैंगिकता को नहीं दिखाती – मनोज वाजपेयी

1 min


अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर को समलैंगिकता के आधार पर यूनिवर्सिटी से सस्पेंड कर दिया गया था और कुछ समय बाद उनके घर पर उनकी लाश पाई गई थी। मनोज वाजपेयी ने वहां के छात्रों और लोगों से अनुरोध किया है और कहा है कि फिल्म ‘अलीगढ’ देखने से पहले इसका विरोध न करें क्योंकि ये फिल्म समलैंगिकता को नहीं बल्कि उस प्रोफेसर के ‘अलीगढ़’ से प्यार को दिखा रही है।

फिल्म के निर्देशक हंसल मेहता ने कहा कि “इस फ़िल्म का नाम ‘अलीगढ़’ इसीलिए रखा गया क्योंकि अलीगढ़ से उस प्रोफेसर को बेहद प्रेम था।”


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये