किरण होती तो ज्यादा अच्छा होता-अनुपम खेर

1 min


अनुपम खेर ने शनिवार को अपने नए नाटक ‘मेरा वो मतलब नहीं था’ का मंचन किया। इस नाटक की खास बात यह रही कि इसके जरिए वेटरन एक्ट्रेस नीना गुप्ता ने करीब नौ साल बात रंगमंच पर वापसी की।

B_jLxB2U0AA86ot
अनुपम चाहते थे कि ‘मेरा वो मतलब नहीं था’ में उनकी पत्नी किरण खेर लीड एक्ट्रेस की भूमिका निभाएं। पर किरण भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से सांसद हैं जिसके कारण एसा संभव नही हुआ । अपने नाटक को लेकर उत्साहित अनुपम ने कहा, ‘मैंने सुनिश्चित किया कि इसका मंचन मेरे जन्मदिन पर हो। यह मेरा जन्मदिन मनाने का सबसे बढ़िया तरीका था। मैं अंतिम सांस तक काम करते रहना चाहता हूं।’ अनुपम ने अपने बर्थडे की पूर्व संध्या पर अपने एक्टिंग स्कूल ‘ऐक्टर प्रिपेयर्स’ के विद्यार्थियों के लिए नाटक का एक शो आयोजित किया था। इस नाटक को राकेश बेदी ने डायरेक्ट किया था.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये