मूवी रिव्यू: दो नये चेहरों का आगमन ‘मलाल’

1 min


Malaal-Movie-Review

रेटिंग**

इस सप्ताह दो और फिल्मी घरानों के बेटे बेटी निर्माता संजय भंसाली तथा निर्देशक मंगेश हडालवे की फिल्म ‘मलाल’ में दिखाई दे रहे हैं। इस रोमांटिक फिल्म का नायक मिजान जाफरी जहां जावेद जाफरी का बेटा है, वहीं शर्मिन सहगल संजय लीला की भान्जी है।

कहानी

अभी तक फिल्मों में अमीर गरीब या जात पात के सब्जेक्ट्स हजारों बार दिखाई जा चुके हैं उन्हीं में शामिल इस फिल्म की कहानी के अनुसार शिवा यानि मिजान जाफरी चॉल में रहने वाला टिपिकल मुंबईया टपोरी टाइप लड़का है। जबकि उसी चॉल में रहने आई आस्था चौधरी यानि शर्मिन सहगल एक स्टॉक मार्केट परिवार से है, जो कभी अमीर था लेकिन शेयर मार्केट में भारी घाटा होने के बाद उसे चॉल में आकर रहना पड़ा। शुरूआत में शिवा और आस्था में छत्तीस का आंकड़ा है। लेकिन बाद में शिवा उसे प्यार करने लगता है। उधर आस्था का रिश्ता विदेश से एक लड़के के साथ तय हो चुका है। शिवा आस्था के लिये अपने आपको पूरी तरह से बदलने के लिये तैयार है । उसी दौरान उनके बीच एक ऐसा खलनायक आकर खड़ा हो जाता है, जिसकी बदौलत क्या दोनों एक हो पाते हैं या नहीं ?

अवलोकन

फिल्म में नब्बे के दशक के पोस्टर दिखाई देने से बेखूबी एहसास हो जाता है कि फिल्म नब्बे दशक के माहौल की है। उन दिनों चॉल सिस्टम काफी प्रभावी था लिहाजा फिल्म में वो माहौल अच्छा लगता है। हालांकि शो नहीं किया गया, लेकिन फिल्म साउथ इंडियन फिल्म ‘7 जी रेनबो कॉलनी’ का रीमेक है। फिल्म का पहला भाग दिलचस्प है,  वहां यूपी से आये लोगों के मुद्दे को भी छूने की कोशिश की गई है। दूसरे भाग में कहानी पूरी तरह पटरी से उतर जाती है। यहां तक फिल्म का एक मजबूत किरदार राजनेता समीर धर्माधिकारी का किरदार मध्यातंर के बाद पूरी तरह से गायब कर दिया जाता है, क्यों? इसके अलावा फिल्म का क्लाईमेक्स तो पूरी तरह निराश करता है। सबसे बड़ी बात कि सजंय लीला भंसाली जैसे मेकर की भव्यता और रोमांस फिल्म में कहीं दिखाई नहीं देता। लिहाजा फिल्म अंत में अपना प्रभाव पूरी तरह से छोड़ देती है।

अभिनय

शिवा की भूमिका जिसके अख्खडपन, एक्शन, डांस और इमोशन में मिजान जाफरी पूरी तरह फिट है, उसने खासकर एक्शन और इमोशन में बेहतरीन अदाकारी दिखाई है। वहीं शरमिन सहगल काफी इनोसेंट लगी है। हम कह सकते हैं कि बॉलीवुड में इन दोनों नये कलाकारों को आसानी से एन्ट्री मिल जायेगी। इनके अलावा समीर धर्माधिकारी जितनी देर भी रहे प्रभावशाली लगे।

क्यों देखें

इस रोमांटिक फिल्म में शरमिन सहगल और मिजान जाफरी जैसे फ्रेश चेहरों को देखना अच्छा लगेगा।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये