मूवी रिव्यू: ईमानदार पुलिस अधिकारी की कहानी है ‘अर्जुन सिंह आईपीएस’

1 min


रेटिंग**

निर्देशक अरशद सिद्दिकी की फिल्म ऑफिसर अर्जुन सिंह आईपीएस पुलिस के ज़िन्दगी पर आधारित फिल्म है। इसके पहले भी काफी सारी इस तरह की हिट फिल्में आ चुकी है जैसे कि बाटला हाउस, सिंबा, और आर्टिकल 375 आदि।

कहानी

फिल्म की कहानी अर्जुन सिंह नाम के एक ईमानदार और बहादुर पुलिस वाले की कहानी है। एक लापता लड़की माया के केस को संभालने के लिए अर्जुन सिंह को इलाहाबाद उत्तर प्रदेश में ट्रांसफर कर दिया जाता है। जांच पड़ताल करते वक्त अर्जुन सिंह ने एक भ्रष्टाचारी नेता को भी हरा दिया और जड़ से खत्म कर दिया। फिल्म के अंत में अर्जुन जुर्म को खत्म करने के लिए अपने खाकी का इस्तेमाल करता है। फिल्म ऑफिसर अर्जुन सिंह आईपीएस में काफी सारे किरदार देखने को मिले।

अवलोकन

निर्देशक ने पुलिस डिपार्टमेंन्ट के तकरीबन हर पहलू को दिखाने की एक हद तक सफल कोशिश की। फिल्म में बताया गया कि किस प्रकार पुलिस डिपार्टमेंट राजनेताओं और प्रभावशाली शख्सियत की प्रभाव में दबा दिखाई देता है। जहां ईमानदार अफसर चाह कर भी कुछ नहीं कर पाता। लेकिन इन्हीं में कुछ जीवट किस्म के अफसर हैं जो अपने दृड़संकल्प से भ्रष्टाचार का मुकाबला करता है। और बेईमान नेताओं के उनके अंजाम तक पहुंचा कर ही दम लेता है। फिल्म की रफ्तार और पटकथा अच्छे रहे। लेकिन म्यूजिक औसत रहा।

अभिनय

प्रियांशु चटर्जी ने अपनी भूमिका के साथ पूरा न्याय किया है। वह अर्जुन सिंह के किरदार में हैं। उनके अलावा रानी लक्ष्मी, गोविंद नामदेव, विजय राज, दीपराज राणा जैसे मंझे हुए कलाकारों ने भी अभिनय में अपनी स्तरीयता बनाये रखी।

क्यों देखें

अरशद सिद्दीकी द्वारा निर्देशित इस फिल्म में वो तमाम मसाले हैं, जिन्हें देखते हुए दर्शक बोर नहीं होंगे।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये