मूवी रिव्यू: एक सीधी सादी म्यूजिकल लव स्टोरी है – ‘रिदम’

1 min


रेटिंग**

विवेक कुमार निर्देशित फिल्म ‘रिदम’ एक म्यूजिकल लव स्टोरी है, एक ऐसी लव स्टोरी जो इससे पहले कितनी ही बार दोहराई जा चुकी है। फर्क सिर्फ इतना है कि इसमें दो ऐसे प्यार करने वाले हैं जो एक दूसरे का प्रेरणा बन जाते हैं।

कहानी

रिनिल रौथ यानि अवंतिका पौलेन्ड यूनिवर्सिटी में म्यूजिक पढ़ रही है। वो अपने बैंड के साथी से ही प्यार करती है। लेकिन एक दिन वो उसे किसी और के साथ देख लेती है इसके बाद उसका ब्रेकअप हो जाता है। रिनिल रॉक स्टार सलमान अहमद की जबरदस्त फैन है उसे उसी की तरह एक इन्टरनेशनल रॉक स्टार बनना है। वो आगे एक कंपीटिशन के लिये गाना लिखने की कोशिश कर रही है लेकिन वो इतनी डिस्टर्ब है कि वो गाना लिख ही नहीं पा रही। उसी दौरान उसकी लाइफ में एक लड़का आदिल चौधरी यानि रोहन आता है वो आगे चलकर अवंतिका की प्रेरणा बन जाता है लेकिन जब वो उससे अपने प्यार का इजहार करता है तो अवंतिका उसके प्यार को ठुकराते हुये उसे दोस्ती की हद तक ही रहने के लिये चेतावनी देती है। बाद में उसकी सहेली उसे बताती है कि एक दिन ऐसा भी था जब तू जरा भी आगे नहीं बढ़ पा रही थी लेकिन रोहन के आते ही तुझे तेरे गीत के लिये शब्द मिलने शुरू हो गये और अब तू और तेरा बैंड कंपीटिशन के लिये पूरी तरह तैयार हैं वो सब रोहन की बदौलत ही हुआ है, इसलिये वही तेरा सच्चा साथी है। बाद में कंपीटिशन जीतने का श्रेय अवंतिका रोहन को ही देती हुई उसके प्यार को स्वीकार कर लेती है।

निर्देशन

फिल्म एक सीधी सादी लव स्टोरी पर आधारित साधारण सी फिल्म है जिसमें शुरू से लेकर अंत तक कोई एक्साइटमेन्ट नहीं। किरदार मशीन की तरह हैं लिहाजा जैसे निर्देशन उन्हें चलाता है वे वैसे ही चलते हैं। बेशक किरदार देसी हैं लेकिन उन पर विदेशी परत चढ़ी हुई हैं क्योंकि सबका एक्सेंट अंग्रेजी से प्रभावित है। पौलेंड में फिल्म फिल्माई गई बावजूद इसके एक दो लोकेशन के अलावा निर्देशक बाहर गया ही नहीं। फोटोग्राफी एक हद तक अच्छी है। बावजूद इसके फिल्म में ऐसा कुछ भी नहीं जो दर्शक के दिलोदिमाग में कुछ देर के लिये तो रहे।

अभिनय

फिल्म की नायिका रिनिल दक्ष डांसर है उसके डांस स्टैप्स ये भली भांति साबित करते हैं। वो न्यूयार्क से है बावजूद इसके उसकी हिन्दी आश्चर्यजनक तौर पर काफी अच्छी है। रौथ खूबसूरत है लेकिन अभिनय में उसे अभी कुछ सीखना है। इसी प्रकार आदिल चौधरी महज चॉकलेटी हीरो से ज्यादा कुछ नहीं लगता। फिल्म की तरह दोनों तो साधारण रहे ही, इनके साथी भी इन्हें कोई ज्यादा सहारा नहीं दे पाते हैं।

संगीत

फिल्म में संगीत पाकिस्तानी रॉक स्टार सलमान अहमद ने दिया है इसलिये सभी गाने कैची और एक हद तक मधुर हैं। सलमान खुद भी फिल्म में मेहमान भूमिका में है ।

क्यों देखें

अगर आप सिंपल सीधी सादी एक हद तक फ्रैश म्यूजिकल लव स्टोरी देखना चाहें तो एक बार फिल्म देख सकते हैं।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये