परिवार के साथ नहीं देख सकते आप ये फिल्में

1 min


बॉलीवुड की पहचान अलग अलग तरीके की फिल्मों के तौर पर की जाती है, यहां पर कॉमेडी और लव स्टोरीज़ से लेकर एक्शन और हॉरर फिल्में भी बनती हैं। लेकिन इन फिल्मों के बीच कई फिल्में ऐसी भी बनती हैं जो आप अपने परिवार के साथ कतई नहीं देख सकते। आप ऐसी फिल्मों को उनके साथ देखने की हिम्मत नहीं कर सकते जिनके बारे में हम बताने जा रहे हैं ये फिल्में परिवार के साथ देखना आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकता है।

grand-masti-poster-latest-hot

ग्रेंड मस्ती

फिल्म ग्रेंड मस्ती एक एडल्ट कॉमेडी फिल्म है। इस फिल्म में जिस तरह के संवादों का प्रयोग किया गया है वो फनी नहीं बल्कि चीपनेस की श्रेणी में आता हैं। इस फिल्म में पुरूष और स्त्री के प्रइवेट पार्ट्स को लेकर भी कई भद्दे मजाक किए गए है जो अश्लीलता की सारी हदें पार करते हैं। सेक्स या ग्लैमर को फिल्म में दिखाया जाना गलत नहीं है, लेकिन नाम, रंग-रूप और स्त्रियों के प्रति भद्दी बातों में कोई मनोरंजन कैसे ढूंढ  सकता है।

gulshan-devaiah-radhika-apte-hunterrr-poster-hot

 

हंटर

ये एक सेक्स कॉमेडी है जो एक सेक्स एडिक्ट की कहानी बयां करती है, जिसकी जिदंगी का मकसद सेक्स है। फिल्म का हीरो मंदार अपने को वासु मानता है। वासु यानी कि जो सेक्स करने की चाहत को काबू में नहीं रख पाता है। जिसे बचपन से ही लड़कियों को देखकर एक अलग तरह की भावना जागृत होती है, शर्माते हुए ही सही वो लड़कियों के पास जाकर दोस्ती करना चाहता है और वासना की भावना खुलकर सामने आती है।

1342259970-screenshot

 

जिस्म 2

इस फिल्म में सनी लियोन के जिस्म की नुमाइश के अलावा कुछ भी नहीं है। ये फिल्म ‘जो दिखता है वो बिकता है’ की तर्ज पर बनाई गई है। सनी की बदौलत ये फिल्म चली तो सही लेकिन इस फिल्म में एक्टिंग के नाम पर कुछ भी नहीं था। बोल्ड दृश्यों से भरपूर इस फिल्म को अगर बहरा भी देखने जाए तो शायद वो भी पूरी फिल्म का आनंद ले सकता है। फिल्म का पहला संवाद है आई एम अ पोर्न स्टार..फिल्म में खासतौर पर मेल ऑ़डियंस के लिए काफी कुछ है।

ba-pass-poster_13649037870

बी.ए पास

ये फिल्म एक ऐसे स्टूडेंट की कहानी है जिसेअपनी जीविका चलाने के लिए एक सेक्स वर्कर बनना पड़ता है। इस फिल्म में बखूबी दिखाया गया है कि समाज जैसा दिखता है वैसा होता नहीं है। बंद दरवाजे के पीछे शराफत के नकाब उतर जाते हैं और तब नैतिकता और मूल्य धरे के धरे रह जाते हैं। ये फिल्म वास्तविकता तो दिखाती है लेकिन जिस तरीके से इस फिल्म में बोल्ड दृश्यों की भरमार है, तो यह फिल्म एक ख़ास दर्शक वर्ग को पसंद बन कर रह गई है।

Hate-Story-Poster-00_2

 

हेट स्टोरी

इस फिल्म का उद्देश्य कही न कहीं वास्तविकता दिखाना था। लेकिन क्या वास्तविकता दिखाने के लिए अंग प्रदर्शन की आवश्यकता है ये फिल्म ऐसे कई तरीके के सवाल खड़े करती है। हेट स्टोरी एक रिवेंज ड्रामा है, जिसमें फिल्म की हीरोइन अपना बदला लेने के लिए अपने जिस्म का इस्तेमाल करती है। इस फिल्म में इंटिमेट सींस की भरमार है। फिल्म की लीड एक्ट्रेस पाउली दाम ने फिल्म में खुद को अत्यधिक एक्सपोज किया है। ‘हेट स्टोरी’ की सीक्वेल फिल्म ‘हेट स्टोरी-2’ भी रिवेंज ड्रामा है और उसमें भी बोल्ड सीन्स की भरमार है और फिल्म का तीसरा भाग भी जल्द ही रिलीज होने वाला है।

 

 

 

 

 

 

 


Like it? Share with your friends!

Pankaj Namdev

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये