जानिए बेहद ही फेमस मोगली कार्टून के प्रसारण के बाद क्यों भड़क उठे हैं लोग…टाइटल ट्रैक है वजह!

1 min


Mowli Cartoon

दूरदर्शन पर दोपहर 1 बजे प्रसारित हो रहा है मोगली कार्टून

जंगल -जंगल बात चली है पता चला है, अरे चड्ढी पहन के फूल खिला है फूल खिला है….ये गाना तो आपको याद ही होगा और इसे सुनते ही बचपन की कई यादें भी ज़िंदा हो गई होंगी। कोरोना के चलते लॉकडाऊन है और इसीलिए आजकल दूरदर्शन पर दिखाए जा रहे हैं वो पुराने सीरीयल जो कभी 90 के दशक की शान हुआ करते थे। लिहाज़ा अब दूरदर्शन ने बेहद ही पॉपुलर मोगली कार्टून का दोबारा प्रसारण शुरू कर दिया है। लेकिन इसके प्रसारण के बाद कुछ ऐसा हुआ कि लोग गुस्सा हो गए और भड़क उठे हैं।

क्यों भड़क उठे हैं लोग

Mowgli Cartoon

Source – DW

दूरदर्शन पर सबसे पहले 90’s के शो रामायण और महाभारत की वापसी हुई थी उसके बाद शक्तिमान और देख भाई देख जैसे शो भी शुरू हो गए। वहीं अब चैनल ने मोगली कार्टून यानि द जंगल बुक का भी प्रसारण दोबारा शुरू कर दिया है। जिसके बाद से ही लोग नाराज़ हो गए हैं। लेकिन उनकी नाराज़ागी का कारण इस जंगल बुक का प्रसारण नहीं है बल्कि इसके पीछे की वजह कुछ और ही है।

टाइटल ट्रैक को लेकर नाराज़ हुए हैं मोगली कार्टून के फैंस

दरअसल इस वक्त जो कार्टून दिखाई जा रही है उसमें चल रहा टाइटल ट्रैक पहले वाला नहीं है। ना ही वो आवाज़ है और ना ही वो बोल। लिहाज़ा लोग इससे नाराज़ हो गए हैं। पहले वाला ट्रैक काफी अलग था जो आज भी उस दौर के लोग गुनगुनाते हुए सुनाई दे जाते हैं। लेकिन अब जो सुनाई दिया वो उससे बिल्कुल अलग था। जंगल जंगल बात चली है पता चला है, चड्ढी पहन के फूल खिला है फूल खिला है….ये टाइटल काफी फेमस हुआ था जिसे गीतकार गुलज़ार ने लिखा था। लेकिन जब इस बार द जंगल बुक का टेलीकास्ट हुआ तो ये टाइटल ट्रैक गायब था।

लोग सोशल मीडिया पर जता रहे हैं गुस्सा

वहीं अब 90 के दशक के लोग जिन्होने इस पुराने टाइटल ट्रैक को जीया है। वो इस बात काफी खफा नज़र आ रहे हैं। लिहाज़ा वो अब सोशल मीडिया पर इसको लेकर आपत्ति भी जता रहे हैं। उन्होने दूरदर्शन पर ट्वीट कर इस नए ट्रैक पर काफी अफसोस जताया है। और पुराने ही टाइटल की वापसी की मांग की है।

और पढ़ेंः शुरू हुई बॉलीवुड में ऑनलाइन पूजा (करा रहे हैं पण्डित लखन भारद्वाज)


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये