आज की अनारकली कैसी होगी ?

1 min


Madhubala.gif?fit=650%2C450&ssl=1

हाय, क्यों नहीं हम पैदा हुए थे जब मधुबाला ने फ़िल्म ‘मुग़ल ए आज़म’ को आज से छप्पन साल पहले अपनी ख़ूबसूरती, अदायगी और मासूम सेक्स अपील से अमर फ़िल्म बना दिया था ? खैर कोई बात नहीं, सीक्वल के इस जमाने में क्या नहीं हो सकता है ? तो बस हम बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, फिर से मुग़ल ए आज़म के सीक्वल का, जो शायद ‘अनारकली की वापसी’ के नाम से हमें फिर एक बार मधुबाला की याद दिला जाये। इस सीक्वल को बनाने की मेहनत कर रही हैं फराह अहमद, जिनके फ़िल्म मेकर शौहर स्व.सुल्तान अहमद ने आज से छप्पन वर्ष पहले, फ़िल्मकार के. आसिफ को ‘मुग़ल ए आज़म’ बनाने में असिस्ट किया था। पता चला है कि ‘अनारकली की वापसी’ वाली कहानी की स्क्रिप्ट ‘मुग़ल ए आज़म’ के रिलीज़ होने के तुरन्त बाद ही तैयार कर ली गई थी लेकिन सुल्तान अहमद ने जब खुद का बैनर लांच किया सन् इकहत्तर में तब उन्होंने इस फ़िल्म को शूट करने का सपना देखा, लेकिन असमय उनके निधन होने से सब सपने अधूरे रह गए। अब इतने सालों बाद जब फिर से उनकी श्रीमती जी ने अनारकली की वापसी बनाने का सपना पूरा करने की ठानी है तो हम जैसे नए जमाने के दर्शकों का भी सपना पूरा होगा अनारकली को रुपहले परदे पर देखने का। यह अलग बात है कि ज़माने के साथ साथ कहानी में कई नए ट्विस्ट दिखने वाले हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये