महाभारत में भीष्म पितामह का नहीं, बल्कि ये किरदार निभाना चाहते थे मुकेश खन्ना

1 min


महाभारत में भीष्म पितामह

क्यों महाभारत में भीष्म पितामह नहीं बनना चाहते थे मुकेश खन्ना ?

देशभर में हुए लॉकडाउन के बीच इन दिनों दूरदर्शन पर रामायण और महाभारत का पुन: प्रसारण किया जा रहा है। ऐसे में सभी लोग अपने घरों में हैं और पूरे परिवार के साथ ये शोज देख रहे हैं। लोग आज भी रामायण और महाभारत को पहले जितना ही पसंद कर रहे हैं। इसके साथ ही रामायण और महाभारत के सभी किरदार भी इन दिनों लाइमलाइट में आ गए हैं और उनसे जुड़े पुराने किस्से भी सुर्खियों में छाए हुए हैं। रामायण की तरह ही महाभारत में भी तमाम ऐसे किरदार हैं, जो लोगों के मन में बसे हुए हैं। महाभारत में कृष्ण, अर्जुन के अलावा जिन किरदारों की चर्चा आज भी की जाती है, उनमे से एक हैं महाभारत के भीष्म पितामह।

महाभारत में भीष्म पितामह

Source: Youtube

मुकेश खन्ना को कैसे मिला भीष्म पितामह का रोल ?

महाभारत में भीष्म पितामह का किरदार निभाने वाले अभिनेता मुकेश खन्ना ने अपनी अदाकारी से लोगों का दिल जीता। लेकिन ये बात बहुत कम ही लोगों के पता होगी की मुकेश खन्ना महाभारत में भीष्म पितामह का रोल करने ही नहीं चाहते थे। बल्कि वो महाभारत का कोई और किरदार निभाना चाहते थे। तो आइए आज आपको बताते हैं कि मुकेश खन्ना को महाभारत में भीष्म पितामह का रोल कैसे मिला…

महाभारत के कास्टिंग डायरेक्टर थे गूफी पेंटल

आपको ये बात जानकर हैरानी होगी की मुकेश खन्ना महाभारत में भीष्म पितामह का नहीं बल्कि अर्जुन का रोल निभाना चाहते थे। और शायद तब उन्होंने ये सोचा भी नहीं होगा कि महाभारत में भीष्म पितामह का उनका किरदार लोगों के बीच उन्हें इतना पॉप्युलर बना देगा। आपको बता दें कि महाभारत शो के कास्टिंग डायरेक्टर गूफी पेंटल थे, जिन्होंने खुद महाभारत में शकुनी का किरदार निभाया था।

महाभारत में भीष्म पितामह

Source: Navbharattimes

मुकेश खन्ना को दुर्योधन के रोल के लिए चुना गया

गूफी पेंटल ने मुकेश खन्ना को शो के बारे में बात करने के लिए बुलाया। दोनों ने मुलाकात की और तभी मुकेश खन्ना ने उनसे पूछा कि मुझे महाभारत में कौन सा रोल दिया जाएगा। उनकी बात का जवाब देते हुए गूफी पेंटल ने उन्हें 4 किरदार बताए, कृष्ण, अर्जुन, कर्ण और भीष्म। इसके बाद मुकेश खन्ने ने शो के लिए ऑडिशन दिया। लेकिन मन से वे कृष्ण या अर्जुन का रोल करना चाहते थे। इसके बाद गूफी पेंटल ने उन्हें फोन करके बताया कि बी आर चोपड़ा ने उन्हें दुर्योधन के रोल के लिए चुना है।

बाद में मिला द्रोणचार्य का रोल

बस फिर क्या था, मुकेश ने तुरंत ही दुर्योधन का रोल करने से इनकार कर दिया और कहा कि मेरे अंदर से विलेन नहीं निकल पाएगा। फिर गूफी ने उन्हें फोन करके द्रोणाचार्य का रोल करने की बात कही। मुकेश इस रोल के लिए तैयार हो गए। लेकिन इसके बाद फिर जब गूफी ने मुकेश को बुलाया तो कहा कि आपको भीष्म पितामह के रोल के लिए फाइनल किया गया है। इसके बाद तो जब टीवी पर पहली बार महाभारत का प्रसारण हुआ तो मुकेश खन्ना ने अपने अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया।

ये भी पढ़ेंमिलिए रामानंद सागर की रामायण के ‘लक्ष्मण’ यानि सुनील लहरी से … पढ़े ये दिलचस्प इंटरव्यू


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये