‘कॉलर बम’ में मेरा रोल जो मैं पहली बार कर रही हूँ: आशा नेगी

1 min


आशा नेगी ने न केवल टेलीविजन से अपनी शुरूआत की अपितु उन्होंने फिल्मों में भी काम कर अपना एक अच्छा खासा नाम एवं मुकाम बना लिया है। और अब वेब सीरीज में भी पान्डेमिक के दौरान भी उनकी फिल्में एवं शोज रिलीज लगातार हो रहे है। अतः अब आशा ने अपना मन बतौर निर्माता भी कुछ अच्छे अच्छे कंटेंट बनाने की ठान ली है। आशा का मन है कि अब वह, बेहतरीन कंटेंट के साथ एंटरटेनमेंट का तड़का भी लगा कर बतौर प्रोड्यूसर बेहतरीन प्रोजेक्ट्स का निर्माण करे। आशा का मानना है कि बेहतरीन कंटेंट के साथ एंटरटेनमेंट का तड़का भी होना जरूरी है।

आपकी फिल्म, लूडो हाल ही में ओटीटी पर रिलीज हुई है और अब यह, कॉलर बम प्रीमियर हो रहे है और पसंद भी किए जा रहे है। क्या कहना है इस किरदार के बारे में?

कॉलर बम में मेरा रोल जो मैं पहली बार कर रही हूं। मैं एक पुलिस वाले की भूमिका निभा रही हूँ और मेरी मां भी हमेशा से चाहती थीं- कि मैं सेना में शामिल हो जाऊं। लेकिन अभिनेता बनने के बाद ऐसा कभी नहीं हो पाया। इसलिए यहां मुझे कुछ अलग करने का मौका मिला। क्योंकि मेरी छवि सिर्फ एक अच्छी बेटी या एक अच्छी बहू होने की थी। यहां तक कि अपनी पिछली वेब सीरीज ख्वाबों के परिंदे में भी मैं इसमें बहुत ही चुलबुला किरदार निभा रहा था। तो ऐसा कुछ मेरे लिए बिल्कुल नया था।

आपने अपने करियर की शुरूआत टेलीविजन से की और फिर आपने फिल्में की ओर रुख किया और अब ओटीटी पर आपकी फिल्में एक के बाद एक रिलीज हो रहे है। सभी 3 अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर काम करने के बाद आपको इन तीनों में क्या अंतर दिखाई दिया और आपको किस पर ज्यादा काम करने में मजा आता है?

मैं बहुत ईमानदारी से ये कहना चाहूंगी – मुझे वास्तव में वेब स्पेस पर काम करने में अत्यंत मजा आ रहा है। टेलीविजन के साथ एक शो ऑन-एयर होता था और फिर 2-3 साल तक वह साल चलता रहता था। मुझे नहीं लगता कि- अब मुझमें इतना धैर्य है। जब मैं कोई वेब शो करती हूं, तो मैं एक या दो महीने के लिए एक अच्छा किरदार करती हूं और फिर मुझे एक नया प्रोजेक्ट करने के लिए जाना अच्छा लगता है। और टेलीविजन के विपरीत, यहां कोई दैनिक प्रसारण मुद्दे नहीं हैं, इसलिए हम प्रदर्शन से समझौता किए बिना अपनी गति में और बहुत आराम से काम करते हैं। और क्योंकि वेब प्लेटफार्म ने फिल्म अभिनेताओं और टेलीविजन अभिनेताओं को भी कई अवसर दिए हैं। इसलिए मैं बहुत स्पष्ट रूप से कहना चाहूँगी – मुझे वेब प्लेटफार्म पर काम करने में मजा आता है।

लूडोको ओटीटी पर रिलीज किया गया, और अब आपकी अगली फिल्म, कॉलर बमष् भी नेटफ्लिक्स प्लेटफॉर्म ओटीटी पर रिलीज हुई है और बेहतरीन रिस्पॉन्स मिल रहा है। थिएटर रिलीज नहीं हो पा रहे है आपकी फिल्में, इस पर आपको कोई पछतावा महसूस हो रहा है?

फिल्म, लूडो आने पर भी लोग मुझसे यह सवाल कई बार पूछ चुके हैं। लेकिन नहीं, मुझे बिल्कुल भी पछतावा नहीं है। मुझे लगता है कि मैं वास्तव में भाग्यशाली हूं कि- मुझे ऐसी बेहतरीन फिल्मों का हिस्सा बनने का मौका मिल रहा है। लोग घर पर हैं इसलिए वे अच्छा कंटेंट देखना चाहते हैं और मुझे उसके कारण काम के अधिक अवसर मिल रहे हैं। मैं बस आभारी हूं और मुझे कोई पछतावा नहीं है।

क्या आप बिग बॉस का हिस्सा बनने की ख्वाहिश रखते हैं?

नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगता। क्योंकि लोग मुझे (हंसते हुए) देखकर वाकई बोर हो जाते थे और मुझे नहीं लगता कि मैं कभी वह शो कर पाऊँगी।

आप किस वजह से बिग बॉस का हिस्सा नहीं बनना चाहते है?

मुझे लगता है कि यह एक ऐसा शो है जहां आपको दर्शकों का मनोरंजन करना है। बस मैं अपनी प्राइवेसी और लाइफ स्टाइल लोगों के सतह शेयर नहीं कर सकती हूँ। और मैं उस तरह की व्यक्ति हूं, जिसे मेरी अपनी निजता से प्यार है।

आपने अवार्ड्स भी जीते है। अवार्ड्स आपके लिए क्या मायने रखते है?

मुझे अभिनय से प्यार है, मॉडलिंग मुंबई आने के लिए बस एक पहला कदम था। वास्तव में जब मैं बचपन से ही, एक अभिनेत्री नहीं बल्कि एक नायिका बनना चाहती थी। जब मैं मुंबई आयी तो मेरा एक लक्ष्य था, बस मुझे एक अभिनेता बनना था और इसलिए मैं यहां हूं। और तभी मुझे एहसास हुआ कि मुझे अभिनय करना पसंद है। मैं सिर्फ कैमरे के सामने अभिनय करना पसंद करती हूं। मैं अवॉर्ड्स के बारे में ज्यादा नहीं सोचती हूँ क्योंकि मेरा पूरा फंडा अच्छा काम करने का है। अवार्ड्स मिल भी जाए तो मैं भी खुश हूँ और ना मिले भी तो ठीक!

सामान्य तौर पर रिश्तों के बारे में आपकी क्या राय है? पिछली पीढ़ी के विपरीत लोगों ने मुश्किल समय में एक-दूसरे का हाथ थामे रखा। मौजूदा समय आज की पीढ़ी अलग है करने में विश्वास करते है। सो आज के समय अनुसार रिश्तों के बारे में आपका क्या ख्याल है?

लोग बदल रहे हैं। लोग अब समझौता करने में विश्वास नहीं रखते। लोग आत्म-प्रेमको अधिक प्राथमिकता देते हैं। मैं अपने माता-पिता को कभी-कभी देखती हूं, वे शादी करने से पहले एक-दूसरे से कभी नहीं मिले लेकिन आज वे खुशी-खुशी शादी कर इतने वर्षों तक एक दूसरे का साथ निभाते रहे है। मुझे लगता है कि बदलते समय के साथ लोग भी बदल रहे हैं।

क्या आपको लगता है कि आज के समय में अरेंज मैरिज ज्यादा काम करती है?

मेरे माता पिता अरेंज्ड मैरिज है और उन्होंने आज तक साथ बहुत बेहतरीन तरीके से दिया है। पहले अरेंज्ड मैरिज ज्यादा हुआ करती थी लव मैरिज भी होती थी। पहले यह होता था। मुझे नहीं पता कि वर्तमान में परिदृश्य कैसा है।

SHARE

Mayapuri