बर्थडे स्पेशल: 12 साल तक किया संघर्ष, फिर बॉलीवुड में मिली खास पहचान

1 min


फिल्म इंडस्ट्री में लंबे संघर्ष के बाद बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने वाले ऐक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी आज अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं। नवाजुद्दीन ने फिल्मों में अपने अलग-अलग तरह के किरदार से हमेशा ही लोगों का दिल जीता है। उनके अभिनय की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। नवाजुद्दीन ने फिल्म ‘सरफरोश’ से बॉलीवुड में कदम रखा था। इस फिल्म में नवाज ने एक छोटा सा रोल निभाया था। बॉलीवुड में आए हुए उन्हें 19 साल पूरे हो गए हैं। इतने सालों में नवाजुद्दीन ने कई बड़ी फिल्मों में काम और अभिनय से दर्शकों का दिल में अपनी अलग जगह बनाई। आइए आज उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको बताते हैं उनके जीवन से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें…

– नवाजुद्दीन सिद्दीकी का जन्म 19 मई, 1974 को उत्तरप्रदेश के मुज्जफ्फरनगर के एक छोटे से गांव बुढ़ाना में हुआ था। नवाज के पिता पेशे से किसान हैं। नवाज के गांव में कोई भी थियेटर नहीं था। फिल्म देखने के लिए उन्हें 45 किलोमीटर दूर जाना पड़ता था।

चौकीदार का काम भी किया

– ग्रेजुएशन के बाद नवाजुद्दीन ने दवा की दुकान पर कुछ समय के लिए काम किया था। इसके बाद नवाज दिल्ली चले गए और वहां पर बतौर चौकीदार काम किया था। हालांकि ये पेशा नवाज का एक्टिंग की तरफ से रुख नहीं मोड़ सका और उन्होंने दिल्ली में ही थियेटर में दाखिला ले लिया था।

– बॉलीवुड में आने से पहले नवाजुद्दीन ने महज 5 फिल्में ही देखी थीं। इसके साथ ही वह रोजाना एक्टिंग की रिहर्सल शीशे के सामने खड़े होकर करते थे। साल 1996 में दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से अभिनय की पढ़ाई पूरी करने के बाद वो मुंबई आ गए।

– नवाज को पास के गांव में रहने वाली अंजली से प्यार हो गया था और जल्दी ही दोनों शादी के बंधन में बंध गए। नवाज ने अंजली से शादी की जिससे उनके दो बच्चे हैं। एक बेटी है जिसका नाम शोरा है और एक बेटा भी है।

पत्नी को नही किया कभी किस

– एक इंटरव्यू के दौरन नवाजुद्दीन ने बताया था कि उन्होंने अपनी पत्नी को कभी भी किस नहीं किया। उन्होंने पहली बार मिस लवली को-स्टार निहारिका सिंह को ऑनस्क्रीन किस किया था।

– नवाज का सबसे पहला ऑनस्क्रीन ऐड अपीयरेंस पेप्सी के लिए सचिन आला रे कैम्पेन में था। इसमें वो धोबी बने थे। इस काम के लिए उन्हें तब 500 रुपये मिले थे।

– 2004 में कुछ फिल्मों में काम करने के बाद भी नवाज के पास गुजारा करने के लिए पैसे नहीं थे। इस दौरान वो एनएसडी के अपने एक सीनियर के साथ रहे थे। शर्त ये थी कि नवाज उसके लिए रोज खाना बनाएगें।

इन फिल्मों ने पहुंचाया ऊंचाइयों पर

– बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने के लिए नवाजुद्दीन को करीब 12 साल का संघर्ष करना पड़ा। साल 2012 नवाजुद्दीन के करियर का सबसे बड़ा टर्निगं प्वाइंट बना। ‘कहानी’, ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ और ‘तलाश’ फिल्म ने नवाज के फिल्मी सफर को ऊंचाइयों तक पहुंचा दिया।

– ‘न्यूयॉर्क’ फिल्म में नवाजुद्दीन की एक्टिंग ने फिल्म डायरेक्टर कबीर बेदी का दिल जीत लिया था। इस फिल्म को देखने के बाद कबीर नवाज से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने ‘बजरंगी भाईजान’ के लिए नवाजुद्दीन को रोल ऑफर कर दिया था।

– हाल ही में नवाज गैरकानूनी तरीके से कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स मामले में फंसे थे। छानबीन के बाद ठाणे पुलिस इस नतीजे पर पहुंची कि इस मामले में उनका सीधे तौर पर कोई रोल नहीं है।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये