नीलम मेहरा को सिम्मी होने का गुमान

1 min


4381316099_ceeda4c1ae

 

मायापुरी अंक 41,1975

नीलम मेहरा जिन्हें कभी-कभी सिम्मी होने का गुमान हो जाता है, अपनी आदतों के अनुसार तो बिल्कुल रेखा की तरह ‘बिन्दास’ हैं। बल्कि यह कहना गलत न होगा कि उससे भी एक कदम आगे हैं। यह तो कहो कि उनकी किस्मत अच्छी है जो ज्यादा प्रसिद्ध न होने के कारण लोगों की नजर में नही आती।
वह हमेशा किसी न किसी नये पंछी के साथ कभी स्कूटर पर या कभी किसी की कार में ‘बिन्दास’ ढंग से बैठी दिखाई देती हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि किसी भी रेस्तरां में वह सीट पर ऐसे टांगे उठाए बैठती हैं कि इस बीसवीं सदी में आजकल के फैशनेबल लड़की भी ऐसे ‘मॉडर्न’ ढंग से बैठने से शरमा जायें?

SHARE

Mayapuri