OTT के लिए नई गाइडलाइंस

1 min


सोशल मीडिया के साथ साथ OTT प्लेटफॉर्म्स के लिए भी गाइडलाइंस केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने जारी की. उन्होंने कहा कि मीडिया के हर प्लेटफॉर्म के लिए नियम जरूरी है. उन्होंने बताया कि OTT कंपनियों से कहा गया था कि वो न्यूज मीडिया की तरह एक सेल्फ रेगुलेशन बनाएं, लेकिन वो ऐसा नहीं कर सकीं. जावडेकर ने कहा कि मीडिया की आजादी लोकतंत्र की आत्मा है, फिल्मों के लिए एक सेंसर बोर्ड होता है, लेकिन OTT के लिए ऐसा कोई मैकेनिज्म नहीं है. इसलिए एक मैकेनिज्म तैयार होना चाहिए. डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म को झूठ और अफवाह फैलाने का कोई हक नहीं है.

1. दर्शकों की उम्र के हिसाब से कंटेंट के वर्ग बनाए जाएंगे

2. OTT कंटेंट की पांच कैटेगरी बनाई जाएंगी

3. U, U/A 7+, U/A 13+, U/A 16+, और A कैटेगरी होगी.

4. डिजिटल प्लेटफॉर्म पर पैरेंटल लॉक की सुविधा देनी होगी

5. एथिक्स कोड टीवी, सिनेमा जैसा ही होगा

6. OTT प्लेटफॉर्म्स को सेल्फ रेगुलेशन बॉडी बनानी होगी

7. फर्जी कंटेंट डालने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये