दिलीप कुमार जैसा कोई हो नही सकता (जन्मदिन पर विशेष)

1 min


मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार का आज 92वां जन्मदिन है। उनकी एक एक अदा पर लाखो दिल कुर्बान हो जाते थे।  दिलीप साहब का बॉलीवुड करियर फिल्म ‘ज्वार भाटा’ (1944) से शुरू हुआ था। साल 1947 में उन्होंने ‘जुगनू’ में काम किया। इस फिल्म की कामयाबी ने दिलीप साहब को चर्चित कर दिया। इसके बाद उन्होंने ‘शहीद’, ‘अंदाज’, ‘दाग’, ‘दीदार’, ‘मधुमति’, ‘देवदास’, ‘मुसाफिर’, ‘नया दौर’, ‘आन’, ‘आजाद’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया। हर कामयाब फिल्म के साथ इंडस्ट्री में उनका नाम बढ़ता चला गया।

B_Id_338695_Dilip_Kumar

दिलीप साहब बॉलीवुड के ऐसे अभिनेता है, जिनका नाम करियर के दौरान 19 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट किया गया। इनमें से 8 बार वो ये अवॉर्ड जीतने में भी कामयाब रहे। पहली बार उन्हें ‘दाग’ (1952) के लिए बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला। 1955 में उन्हें लगातार तीन फिल्में ‘देवदास’, ‘अंदाज’ और ‘नया दौर’ के लिए फिल्मफेयर मिला। हालांकि, उन्होंने करियर के दौरान ऐसी कई फिल्में की जिन्हें भले ही अवॉर्ड ना मिला हो, लेकिन लोगों के जेहन में वो आज भी बसी हुई हैं। मायापुरी परिवार से दिलीप कुमार का पुराना नाता रहा है। उनकी फिल्मो के खबरे मायापुरी में बरसो से छपती आ रही है। वो न केवल हिंदुस्तान के महानायक हैं बल्कि पूरी दुनिया उनकी अदायगी की कायल है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये