दीवाली धमाकों का त्योहार नहीं, खूबसूरत उजालों का त्यौहार है, इसे ख़ूबसूरती से ही मनाईये- अनुष्का शर्मा

1 min


अनुष्का शर्मा:—अक्सर लोग दीपावली पर  पटाखे फोड़ने में सबसे ज्यादा आनन्द  महसूस करते हैं, लेकिन अनुष्का के लिए ऐसा बिल्कुल नहीं है। उन्होंने 2004 के बाद से पटाखों को हाथ भी नहीं लगाया। उनके अनुसार उन्होंने लगभग 14 वर्ष पहले ही पटाखे फोड़ना बंद कर दिया था क्योंकि वे समझ गई थी कि पर्यावरण के लिए यह कितना नुकसानदायक है। उन्होंने कहा था, “भले ही आसमान पर उड़ते रंग-बिरंगे पटाखे देखने में बहुत सुंदर लगते हो लेकिन वह कितना पॉल्यूशन फैलाता है इसका अंदाजा नहीं लगा सकते। पर्यावरण की रक्षा के साथ साथ मूक जीव, जंतु, परिंदों के लिए भी पटाखों के धमाके बहुत डराने वाले होते हैं। मैंने एक बार अपने फ्रेंड के डॉगी को दीपावली के अवसर पर पटाखों के धमाके से जिस तरह डरते देखा तो बस मैंने उसी दिन तय कर लिया कि कभी आतिशों को हाथ नहीं लगाऊंगी। हमने इस बारे में अवेयरनेस फैलाने वाला वीडियो भी बनाया जिसका बहुत इफेक्ट पड़ा। आजकल लोगों ने पटाखे फोड़ना बहुत कम कर दिया है, अब तो पटाखे बिकते भी कम है। मुझे खुशी है की एनवायरनमेंट और जानवरों के प्रोटेक्शन के लिए हमने जो मुहिम शुरू किया है वो सबको अच्छा लग रहा है और सब मेरे विचारों से सहमत हो रहें हैं। दीपावली का त्यौहार सिर्फ हम इंसानों के आनंद के लिए ही नहीं होना चाहिए, हमें जीवों के सुकून के बारे में भी सोचना चाहिए। बचपन की दिवालियों को याद करते हुए वे बोली थी, “दीपावली के सारे एंजॉयमेंट में सबसे ज्यादा आनंद आता था हमारे घर पर बनने वाले स्पेशल फूड का। उस दिन मम्मी ऐसे ऐसे लजीज पकवान तैयार करती थी कि उत्सव का मजा आ जाता था। जब देर शाम पटाखे फोड़ कर हम घर लौटते तो टेस्टी स्पेशल माउथ वाटरिंग फूड पर टूट पड़ते थे। दीपावली की ढेर सारी शुभकामनाओं के साथ ये बताना जरूरी है कि दीपावली धमाकों का त्योहार नहीं, वह एक खूबसूरत उजालों का त्यौहार है, इसे ख़ूबसूरती से ही मनाईये और सेफ्टी का ध्यान रखिए।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 

SHARE

Mayapuri