ईधर आने का नहीं की अपार सफलता के बाद अक्षरा के कांवर गीत कैलाशी ने मचाया धमाल

1 min


Jyothi Venkatesh

सावन की दूसरी सोमवरी को भोजपुरी अभिनेत्री व सिंगर अक्षरा सिंह ने शिव भक्तों को एक विशेष तोहफा दिया। जी हां,अक्षरा ने इस सावन पहला कांवर गीत ‘कैलाशी’ के रूप में बाबा भोले नाथ की महिमा का बखान किया है, जो आज रिलीज के साथ वायरल हो गया है। आपको बता दें कि इससे पहले अक्षरा ने गाना इधर आने का नहीं गाया था, जिसे दर्शकों ने अपार सफलता दी। उसके बाद अक्षरा अब बाबा भोलेनाथ को लेकर एक नया गाना लेकर आयीं हैं।

लिंक :

अक्षरा का भोजपुरी कांवर गीत ‘कैलाशी’ उनके अपने यूट्यूब अक्षरा सिंह ऑफिसियल पर रिलीज हुआ है। इस गीत के गीतकार मनोज मतलबी हैं। संगीत अविनाश झा घुंघुरू ने दिया है। पीआरओ रंजन सिन्हा हैं। वहीं, अक्षरा ने अपने इस गाने को लेकर कहा कि यह गाना भोले नाथ के कैलाश से देव नगरी बाबा धाम आने पर है। हर साल बाबा साल में एक बार कैलाश और काशी छोड़ कर अपने भक्तों के लिए सावन महीने में देवघर आते हैं। इस क्रम में लोगों की आस्था बाबा के लिए खूब दिखती है। इसलिए मैंने हर साल की तरह इस साल भी बाबा और उनके भक्तों के लिए ये गाना गाया। मैं खुद भी बाबा की बहुत बड़ी भक्त हूं।

अक्षरा ने कोरोना संकट में बाबा धाम में पूजा से वंचित रहने वाले करोडों श्रद्धालुओं के लिए दुख भी जताया। मगर साथ में ये भी कहा कि बाबा भोलेनाथ ने जब लोगों की रक्षा के लिए विषपान तक कर लिया था, तो कोरोना का भी वो कोई ना कोई हल जरूर निकालेंगे। हमारे मन में उनके लिए अपर श्रद्धा है। हम अपने घरों में ही पूजा करें। तभी हम अगले साल बाबा के दरबार पर जा पाएंगे। इसलिए मैं अपील करती हूं कि आप भी अपने घरों में रहकर बाबा कैलाशी की पूजा करें। और मेरे ये गीत जरूर सुनें।

SHARE

Mayapuri