मूवी रिव्यू: प्यार के तमाम रंगों को पेश करती है ‘नोटबुक’

1 min


रेटिंग 3 स्टार

सलमान खान के प्रोडक्शन में बनी फिल्म नोटबुक से दो नए कलाकारों ने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा है। नोटबुक एक रोमांटिक फिल्म है जिसके हर सीन को बेहद रोमांटिक अंदाज में पेश किया गया है। ज्यादा समय की बात नहीं है जब टीनएजर्स किताबों और पन्नों के जरिए इश्क साझा करते थे। अपने-अपने हिस्से का प्यार और पन्नों पर अपने दिल की बातें लिखकर रख देते थे। इस डिजिटल दुनिया में अब इस तरह से प्यार बयां करना मुमकिन नहीं लगता मगर जिस किसी ने भी अपने जीवन में इस तरह से प्यार बयां किया है, नोटबुक फिल्म उनकी उंगली पकड़ उन्हें उसी दौर में लेकर जाएगी।

खास और बुरा पहलू

फिल्म की शूटिंग कश्मीर में हुई है और झील के बीच में बना ये स्कूल बहुत खूबसूरत लगता है। फिल्म में कबीर (जहीर इकबाल ) और फिरदौस (प्रनूतन बहल) की प्रेम कहानी है। नोटबुक फिल्म प्यार की मासूमियत को सरलता से दिखाती है, मगर जहां प्यार की गहराइयों तक जाने वाली बात है वहां पर फिल्म थोड़ी ढीली नजर आती है। फिल्म में ज्यादा रोमांस फिल्माने के चक्कर में ड्रामा पीछे छूट गया। दर्शक हिंदी फिल्म में रोमांटिक सीन्स से ज्यादा ड्रामे को ढूंढते हें, ह्यूमर को तलाश करते हैं जो प्यार की कहानी में एक अलगाव की दास्तां बयां करती हो। नोटबुक आपको कुछ समय के लिए ताजगी महसूस करा देगी।

कहानी

नोटबुक एक लव स्टोरी है, जो कश्मीर के इर्द गिर्द घूमती है। फिल्म की कहानी एक ऐसे स्कूल की है जो कश्मीर के ऐसे इलाके में है जहां ना ज्यादा इंसान नजर आते हैं और ना ही मोबाइल में नेटवर्क। फिल्म लव स्टोरी होने के साथ-साथ कश्मीर की समस्याओं पर भी बात करती है, जैसे कश्मीर में पंडितों का हाल और कश्मीर में पैरेंट्स द्वारा बच्चों को गलत राह पर भेजना आदि। फिल्म में फिरदौस (प्रनूतन बहल) नाम की एक टीचर होती है जो कश्मीर के उस बोट स्कूल की टीचर होती है। उसकी शादी तय हो जाने पर उसे स्कूल छोड़कर जाना पड़ता है और वहां एक नया टीचर आता है कबीर (जहीर इकबाल)। कबीर को वहां फिरदौस की एक नोटबुक मिलती है जिसे पढ़कर उसे फिरदौस से प्यार हो जाता है। दोनों कभी मिलते हैं या नहीं, ये सब आपको फिल्म देखकर पता चलेगा।

संगीत

फिल्म के गाने अच्छे हैं लेकिन जहां-जहां उन्हें डाला गया है की बार वो फिल्म में रुकावट का काम करने लगते हैं। बीच में सलमान खान का गाया एक गाना भी आता है। यहां आप वो गाना सुन सकते हैं।

अभिनय

सलमान खान ने अपने प्रोडक्शन हाउस सलमान खान फिल्म्स के तहत दो नए चेहरों को लॉन्च किया है। एक हैं जहीर इकबाल जो सलमान खान के दोस्त के बेटे हैं और दूसरी हैं प्रनूतन बहल जो मशहूर अभिनेत्री नूतन की पोती और अभिनेता मोहनीश बहल की बेटी हैं। बात अभिनय की करें तो जहीर इकबाल ने अच्छा काम किया है। उन्हें देखकर बिल्कुल नहीं लगता है कि ये उनकी पहली फिल्म है। प्रनूतन बहल ने भी खूबसूरती से अपना रोल निभाया है। वो बेहद खूबसूरत लगी हैं। फिल्म में 7 बच्चे भी हैं, बच्चों ने बहुत नेचुरल एक्टिंग की है।

क्यों देखें

फिल्म का कॉन्सेप्ट नया है। फिल्मिस्तान और मित्रों जैसी फिल्में बना चुके डायरेक्टर नितिन कक्क्ड़ ने फिल्म को खूबसूरती और ईमानदारी से बनाया है। नोटबुक बहुत पॉजिटिव और जरूरी फिल्म है। यह आपको कहीं ज्ञान नहीं बांटती है। फिल्म में फन है, ह्यूमर है, रोमांस है लव है। अगर आप लव स्टोरी देखना पसंद करते हैं तो जरूर एक बार यह फिल्म देख लीजिए।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Shyam Sharma

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये