छोटे परदे के परफेक्शनिस्ट हैं भानु उदय

1 min


दर्शकों के मनोरंजन के लिए कलाकार दिन और रात अपने शोज की शूटिंग में व्यस्त रहते हैं. दर्शकों को ये सब आसान लगता है, लेकिन  आमतौर पर ये लंबी और कठिन प्रक्रिया का परिणाम होता है. स्टार भारत (रिब्रांडेड-लाइफ ओके) के शो ‘साम दाम दंड भेद’ में विजय नामधारी की भूमिका निभा रहे अभिनेता भानु उदय अपने किरदार और अभिनय कौशल को लेकर मिल रही सकारात्मक प्रतिक्रिया से काफी खुश हैं. दर्शंकों से मिल रही तारीफों से वे अभिभूत हैं।

यदि हर सक्सेस स्टोरी अशांति के दौर से चिह्नित होती है, तो यह भानु का सबसे उथल-पुथल का दौर रहा, जब उन्हें अपने किरदार के लिए वजन बढ़ाना था और फिर से उसे कम करना था. इतना ही नहीं टीम से एक करीबी सूत्र के माध्यम से हमें पता चला कि साम दाम दंड भेद के कलाकार भानु उदय के साथ फाइट सीन या इमोशनल सीन करने से डरते हैं, क्योंकि शूटिंग के दौरान वह अपने किरदार में इस इस कदर खो जाते हैं कि लोगों को अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाता है कि वे अभिनय कर रहे हैं या रियल सीन है।

भावनात्मक सीन हो, निर्दयी या दयालु का सीन हो या फिर एंग्री यंग मैन का सीन, भानु पूरी तरह से विजय नामधारी के किरदार में घुस जाते हैं. फाइट सीन की शूटिंग करते समय सही में उनके शरीर पर कुछ घाव और कट लग जाते हैं. इमोशनल सीन के दौरान आँसू बहाने के लिए भानु को ग्लिसरीन की जरूरत तक नहीं पड़ती. सही मायनों में वे परफेक्शनिस्ट हैं।

भानु उदय कहते हैं, “ एक अभिनेता के तौर पर मेरी एक जिम्मेदारी यह भी है कि दर्शक जब भी मुझे विजय के रूप में देखें,  मेरे परफॉर्मेंस पर एक उनकी तीखी प्रतिक्रिया होनी चाहिए. उन्हें ऐसा नहीं लगना चाहिए कि वे कोई काल्पनिक शो देख रहे हैं. मैं उन्हें उस दर्द की तीव्रता का एहसास कराना चाहता हूं जिससे किरदार गुजरते हैं. और ऐसा करते समय मैं कभी-कभी सीन और दर्शकों से जुड़ने के लिए अपने दायरे से बाहर निकल जाता हूं. चूंकि मैं अपने काम से प्यार करता हूं इसलिए स्वाभाविक तौर पर ऐसा हो जाता है।”

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये