आमिर खान की देश भक्ति, सिर्फ रुपहले पर्दे तक सीमित नहीं है

1 min


आमिर खान ने अपने आज तक के फिल्म करियर में हर तरह की फिल्में बनाई है। उनकी देशभक्ति भरी फिल्में कुछ इतनी सफल रही कि हमारे बुज़ुर्ग देश भक्त फिल्म प्रेमियों को आमिर की फिल्में देख कर मनोज कुमार की याद आ आती है। ऐसा नहीं कि आमिर ने सिर्फ रुपहले पर्दे पर ही, देश के प्रति अपनी भक्ति को दर्शाया, बल्कि कैमरे के पीछे भी वे अपने देश तथा देश वासियों के कल्याण के लिए बहुत कुछ ठोस करते रहें। शायद यही वजह है कि देश की स्थिति पर किसी के सवाल पूछने पर जब उन्होंने अपने दिल का दर्द बयान किया और उस पर जब विवाद उठ खड़ा हुआ था तो सबसे ज्यादा आमिर खान ही मन से आहत हुए थे। वाकई यह सच कहावत है कि लगातार किए जाने वाले अच्छे कर्मों पर दुनिया चुप रहती है और अनइन्टेन्शली कही गई किसी एक उद्गार पर गूंगे भी बोलने लगते हैं और इल्जाम लगाने लगते हैं। आमिर खान की फिल्में,  ‘सरफरोश’, ‘रंग दे बसंती’, ‘मंगल पांडे’ और ‘दंगल’ आमिर द्वारा निर्मित हमारे  देश की वह फिल्में है जो दुनिया भर में, भारत का नाम रोशन करती है। बताया जाता है कि उनकी फिल्म ‘रंग दे बसंती’ का वह डायलॉग- “कोई भी देश परफेक्ट नहीं होता, उसे परफेक्ट बनाना पड़ता है”,आज देशभक्ति सेलिब्रेशंस का एक फेवरेट डायलॉग बन गया है। इस वर्ष ‘ज़ी सिनेमा’ पर आमिर खान की ही फिल्म ‘दंगल’ के प्रीमियर में आमिर और जी सिनेमा चैनल द्वारा नेत्रहीनों के लिए ऑडियो डिस्क्रिप्शन तथा जो दर्शक सुन नहीं सकते उनके लिए विज़ुअल डिस्किृप्शन की सुविधा मुहैया कराई है। इस स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर आमिर खान ने मायापुरी के पाठकों को बधाई दी है।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये