अभद्र फिल्मों के लिए खुले दरवाज़े – पहलाज निहलानी

1 min


सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सीबीएफसी) के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने फिल्म उड़ता पंजाब के निर्णय को लेकर बंबई उच्च न्यायालय के आदेश को लेकर कहा कि ‘गलत कंटेट, अभद्र फिल्मों के लिए दरवाजे खुले हैं’,सेंसर बोर्ड की कार्यप्रणाली पर सवाल भी उठाया है। साथ ही उन्होंने सेंसर बोर्ड के प्रमुख पहलाज निहलानी ने बंबई उच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत भी किया जिसमें फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ में सीबीएफसी द्वारा सुझाए गए संपादन को दरकिनार कर दिया।

 

SHARE

Mayapuri