पंकज त्रिपाठी के नाम एक और अद्भुत पुरस्कार : ‘आई एफएफ एम’( IFFM ) में पंकज त्रिपाठी को प्रतिष्ठित ‘डाइवर्सिटी इन सिनेमा’ पुरस्कार से सम्मानित किया

1 min


उत्कृष्ट आम इंसान और जनता की आवाज को पेश करने वाले किरदारो को परदे पर पूरी शिद्दत के साथ उकेरने वाले अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने खुद को दर्शकों के दिमाग पर बैठा लिया है।पंकज ने  विभिन्न प्लेटफार्मों पर अपने बहुमुखी और सहज अभिनय शैली की पहचान के साथ ही मनोरंजन उद्योग में भी अपने लिए एक अलग जगह बना ली है।पंकज त्रिपाठी को भारत में यथार्थवादी, विभेदित, सम्मोहक और शक्तिशाली कॉंटेंट आधारित सिनेमा की नई लहर का अगवा कार भी मानते है।‘इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न’ने हमेशा सिनेमा के माध्यम से विविधता का जश्न मनाया है।यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि इस वर्ष उन्होंने पंकज त्रिपाठी को डाइवर्सिटी इन सिनेमा पुरस्कार से सम्मानित किया है। यह पुरस्कार उन कलाकारों के लिए है,जिन्होंने अपनी विभिन्न भूमिकाओं के माध्यम से उद्योग में एक पक्की छाप छोड़ी है, सभी प्रारूपों में अपने विविध प्रदर्शनों के साथ अविश्वसनीय बहुमुखी प्रतिभा को चित्रित किया है। इस पुरस्कार के पिछले प्राप्तकर्ताओं में फ्रीडा पिंटो, फवाद खान व ओनीर का समावेश हैं।
पंकज त्रिपाठी किरदारों को अपने सहज अभिनय से वास्तविक और विनम्र बनाने में माहिर हैं।उनका यही वह गुण है,जो उन्हें एक असाधारण कलाकार बनाता है। उन्होंने फिल्मों के साथ-साथ वेब सीरीज में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। उन्हें फिल्म‘‘लूडो’’के लिए फिल्म श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (पुरुष) और मिर्जापुर एस 2 के लिए वेब श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (पुरुष) के लिए भी नामांकित किया गया है। उनकी शॉर्ट फिल्म ‘‘लाली’’ने भी इस साल फेस्टिवल में जगह बनाई है।
पुरस्कार के संदर्भ में बोलते हुए पंकज त्रिपाठी कहते हैं-“मेरा इरादा अपनी क्षमताओं के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है।और मैं बहुत आभारी हूं कि मेरे अभिनय को दर्शकों द्वारा सराहा गया। मैं इस पुरस्कार को प्राप्त करने के लिए वास्तव में सम्मानित और समान रूप से विनम्र हूं और यह मुझे बहुत खुश करता है कि इस तरह के प्रतिष्ठित फिल्म समारोह ने मेरे काम को मान्यता दी है। ”
फेस्टिवल के निदेशक मीतू भौमिक लांगे कहती हैं, ‘‘आईएफएफएम में हम शानदार अभिनेता पंकज त्रिपाठी को अपने सर्वोच्च पुरस्कारों में से एक पेश करने के लिए उत्साहित हैं। अपने अभिनय कौशल और बेजोड़ प्रतिभा के साथ, वह हर चरित्र को आकर्षक बनाते हैं।आई एफएफ एम हमेशा सिनेमा के माध्यम से विविधता के लिए खड़ा रहा है और पंकज त्रिपाठी उसी के अवतार हैं। वह इतनी कुशलता के साथ विविध भूमिकाएँ निभाते हैं जिससे वह इस पुरस्कार के लिए परिपूर्ण हो जाते हैं।”
‘डाइवर्सिटी इन सिनेमा पुरस्कार’प्रख्यात अनुराग कश्यप के हाथों पंकज त्रिपाठी को 20 अगस्त 2021 को प्रदान किया गया।पंकज त्रिपाठी के करियर की सबसे महत्वपूर्ण फिल्मों में से एक ‘‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’’का निर्देशन अनुराग कश्यप ने ही किया था, जिसने उन्हें मानचित्र पर रखा और उनकी सिनेमाई यात्रा के पाठ्यक्रम को बदल दिया।इस समारोह की अध्यक्षता विक्टोरियन गवर्नर ने की।
SHARE

Mayapuri