किसी और डिश से ज्‍यादा मैं मां के हाथ का खाना पसंद करता हूँ – Paras Arora

1 min


सोनी सब के शो ‘काटेलाल एंड संस’ के पारस अरोड़ा र्फ प्रमोद ने कहा, “किसी और डिश से ज्‍यादा मैं मां के हाथ का खाना या फिर पनीर पसंद करता हूं”

सोनी सब का प्रेरणादायक शो ‘काटेलाल एंड संस’ अपने दर्शकों को अपनी हल्की-फुलकी और प्रेरक कहानी से जोड़े रखता है। इस शो में डॉ प्रमोद की भूमिका निभा रहे पारस अरोड़ा को जिया शंकर के साथ अपनी शानदार केमिस्ट्री की वजह से  देश भर से प्रशंसकों का ढेर सारा प्यार और सरहाना मिल रही है।

पारस अरोड़ा ने एक छोटी-सी बातचीत में बताया कि वह खाने के बहुत शौकीन हैं और वो यादें बनाने में विश्‍वास करते हैं ना कि कैलोरीज गिनने में। अपने खाली समय में और अपने मुंह के स्वाद के लिए उन्‍हें खाना पकाना भी पसंद है।

खाने के लिए अपने प्यार को व्यक्‍त  करते हुए पारस अरोड़ा ने कहा, “मैं खाने का बहुत बड़ा शौकीन हूं और बचपन से ही मुझे अलग-अलग तरह के व्यंजनो के बारे में जानकारी रखना पसंद है। इसलिए, जब भी मुझे खाली समय मिलता है, मैं खाना पकाने में हाथ आजमाता हूं और अपने स्‍वाद को बेहतर बनाने की कोशिश करता हूं। मुझे लगता है कि अच्छा खाना मुझे खुशी देता है क्योंकि जब भी मैं उदास या थका हुआ होता हूं तो ये मुझे ख़ुशी महसूस करवाता है और मेरे मूड को अच्छा कर देता है। एक कलाकार होने के नाते, मैं हमेशा अपने खाने की आदतों पर नज़र रखने की कोशिश करता हूं, लेकिन मैं अलग-अलग तरह के व्यंजनों को समझने और आजमाने के लिए बीच-बीच में चीट भी करता हूं। इन चीट डेज के दौरान, मैं अलग-अलग व्यंजनों के साथ प्रयोग  करता हूं और हमारे देश के खाने  का असली स्वाद लेने के लिए मैं भारतीय स्ट्रीट फूड ट्राय करता हूं। जब मैं सख्त डाइट पर होता हूं तो स्ट्रीट फूड के मसालेदार स्वाद के लिए तरसता हूं, लेकिन महीने के जो चीट करने वाले दिन होते हैं  वो मेरे पसंदीदा हैं। उस समय मैं खाने का पूरा आनंद लेता हूं। मां के हाथ का खाना और पनीर मेरे लिए सबसे अच्छा खाना है, जब भी मैं उदास या दुखी होता हूं तो मैं अपने मूड को सही करने के लिए इन्‍हीं  में से कुछ खाना पसंद करता हूं।”

कुकिंग पर अपना हाथ आमाने के बारे में वह कहते हैं, पिछले साल से पहले मैंने कभी भी खाना पकाने की कोशिश नहीं की लेकिन सारे रेस्टोरेंट बंद हो जाने की वजह से यूट्यूब पर ट्यूटोरियल देखकर और वीडियो कॉल पर अपनी मां से कुछ असली सीख लेकर मैंने आसान से डिश के साथ प्रयोग किये। मैं ये नहीं कहूंगा कि खाना बहुत अच्छा होता था, लेकिन उससे मेरा पेट भर जाता था और मुझे खुशी मिलती थी, जिसे मैं रोक नहीं सकता । मुझे लगता है मैं बहुत अच्छा कुक नहीं हूं लेकिन मैं जो भी बनाता हूं, पूरे दिल से बनाता हूं।”

अपने खाना बनाने के अनुभव के बारे में बताते हुए,अंततः उन्होंने कहा, “मुझे लगता है मैंने जो पहली बार खाना बनाने की कोशिश की थी वो सिर्फ मेरे स्वाद के लिए था। यह मेरे लिए ज़िन्दगी भर का अनुभव है और तब से लेकर अब तक एक कुक के तौर पर मैं बेहतर हुआ हूं। इसलिए, खाने के साथ-साथ, अब खाना पकाना भी मुझे खुशी देता है। सेट पर  सभी लोगों को मेरी कुकिंग पसंद है, इसलिए मैंने सोचा है कि जब भी चीजें सामान्य हो जाएंगी उन सभी को अपने घर पर बुलालऊंगा। उम्मीद कर रहा हूं बहुत ही जल्द चीजें ठीक हो जाएंगी। तब मैं उन्हें अपनी खास डिश बेक्‍ड पास्ता या कोई स्वादिष्ट पंजाबी डिश बनाकर खिलाने की कोशिश करूंगा।”

सोनी सब के शो ‘काटेलाल एंड संस’ में पारस अरोड़ा को डॉ प्रमोद के रूप में देखते रहिए,

हर सोमवार से शुक्रवार शाम 7:30 बजे


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये