दर्शक को डराने में कामयाब होने के बावजूद…….? परी

1 min


हॉरर, संस्पेंस तथा भूत प्रेत वाली फिल्मों का हमारे यहां एक अलग वर्ग है, जिनकी बदौलत ये फिल्में अच्छा खासा बिजनेस करने में सफल रहती हैं, लेकिन अनुष्का शर्मा द्धारा निर्मित और प्रोसित राय द्धारा निर्देशित ‘ परी’ एक अलग विषय और अलग ट्रीटमेंट की हॉरर फिल्म है।

फिल्म की कहानी

कोलकाता में रहने वाला एक बंगाली परिवार अपने बेटे प्रम्बरत चटर्जी की शादी की बातचीत करने के बाद वापिस अपनी कार से लौट रहा है। अचानक तेज बारिश के दौरान उनकी कार से एक बुढ़िया टकरा कर मर जाती है। जांच पड़ताल करने के बाद पता चलता है कि मृत बुढ़िया एक इफरित यानि शैतान थी जो अपनी शैतान बेटी अनुष्का शर्मा के साथ एक जंगल में रहती थी, लेकिन उनके शैतान होने का किसी को पता नहीं था सिवाय प्रोफेसर रजत कपूर के जो इस जाति को खत्म करने पर अमादा है। प्रम्बरत ये सोच कर अनुष्का की मदद करता है क्योंकि उसे पता है कि अपनी मां के अलावा उसका और कोई नहीं। एक दिन अचानक, डरी हुई अनुष्का उसे अपने घर में छिपी हुई मिलती है जो प्रोफेसर के डर से वहां आन छिपी है। प्रम्बरत उसके इसरार पर उसे अपने घर में ही रख लेता है, इसके बारे में वो अपने माता पिता और अपनी मंगेतर नर्स रीताभरी चक्रबर्ती को भी नहीं बताता। एक वक्त ऐसा भी आता है जब अनुष्का उसे प्यार करने लगती है और एक बार आवेश में प्रम्बरत के साथ हमबिस्तर हो जाती है। जब प्रम्बरत को उसके शैतान होने का पता चलता है तो वो उसे प्रोफेसर के हवाले छोड़ जाता है, लेकिन बाद में उसे पछतावा होता है तो वो वापिस आता है, तो उसे वहां उसे पता चलता है कि अनुष्का प्रोफेसर को मार अब उसकी मंगेतर को मारने उसके घर गई है, लेकिन उसे मारने से पहले ही उसे प्रसव पीड़ा होने लगती है तो रीताभरी मौत का भय भूलाकर उसकी डिलवरी करती है। इसके बाद अनुष्का अपना बच्चा वहीं छोड़ गायब हो जाती है लेकिन प्रम्बरत को पता है कि वो अपने घर पर ही मिलेगी। प्रम्बरत अनुष्का से मिलता है तो वो उसे बच्चे की परवरिश करने के लिये कहने के बाद मर जाती है।

डराने में पूरी तरह कामयाब

इस प्रकार की कहानियां अक्सर हॉलीवुड की फिल्मों में दिखाई देती रहती है, जिसे इस बार अनुष्का ने अपनी फिल्म का विषय बनाने का प्रयोग किया जिसमें वे एक हद तक सफल रही है लेकिन फिल्म का कथानक और उसे फिल्माने का तरीका इतना जटिल रहा जो आम दर्शक की समझ से बाहर है। कसी हुई पटकथा और बैकग्राउंड म्यूजिक दर्शक को डराने में पूरी तरह कामयाब है। फिल्म हॉरर होने के बाद भी एक संदेश देती नजर आती है कि प्यार शैतान को भी इंसान बना देता है।  फिल्म आवश्कता से कहीं ज्यादा लंबी है लिहाजा उसके लंबे-लंबे सीन अखरते हैं।

मुख्य किरदार में अनुष्का शर्मा ने एक बार फिर साबित किया है कि वो एक बेहतरीन अभिनेत्री है। प्रम्बरत चटर्जी अपने किरदार में पूरी तरह सहज रहे हैं। रजत कपूर भी बढ़िया काम कर गये। इसी प्रकार रीताभरी चक्रबर्ती भी अपनी छोटी भूमिका में असरदार रही।

दर्शक को डराने में कामयाब होने के बावजूद अपने अलग विषय और ट्रीटमेंट के तहत शायद ही फिल्म दर्शकों को पंसद आयेगी।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram परa जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Shyam Sharma

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये