लोगों को प्रेरणा देता है अनुपम खेर का नाटक ‘कुछ भी हो सकता है’

1 min


बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने राजधानी दिल्ली में अपनी जीवनी पर आधारित नाटक ‘कुछ भी हो सकता है’ का मंचन किया।

ये नाटक उनकी जीवनी पर आधारित है, जिसमें संघर्ष के दिनों से कामयाब अभिनेता बनने तक के उनके सफर को दिखाया गया है। वहीं अभिनेता का कहना है कि ‘कुछ भी हो सकता है’ ने उनके मन से विफलता के डर को खत्म किया और खुद को लेकर सामान्य होने का भाव मन में पैदा किया।

थियेटर के इतिहास में आज से पहले कभी भी किसी अभिनेता की आत्मकथा को नाटकीय रूप में नहीं दिखाया गया है। उनका ये नाटक काफी प्रशंसा बटोर रहा है।

इस नाटक में उनके जीवन की कई महत्वपूर्ण घटनाओं को बयां किया गया वहीं खेर ने नाटक में कहा कि यह एक ऐसे व्यक्ति का सफर है जिसके जीवन में अनेक ही नाकामियां भी रहीं पर उसने अपनी किस्मत को हाथ में लिया और इसे बदल कर कामयाब बनाकर ही दम लिया।

जिस तरह से इस नाटक में अनुपम खेर के जीवन को दिखाया गया है ये वाकई उन लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है जो जिंदगी में एक मोड़ पर हार मान जाते हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये