उर्दू शायरी में ‘गीता’

1 min


Anup Jalota

इन दिनों कई देशो में वहां के विद्यार्थीयों को स्कूल में गीता पढ़ाई जाती है। हिन्दुस्तान में भी गीता को कई भाषाओं में ट्रांसलेट किया गया है। अब सबसे बड़ी खबर है कि अब गीता, उर्दू शायरी के तहत भी सुनी जा सकेगी।

लखनऊ के मशहूर शायर अनवर जलालपुरी ने बाकायदा गीता पर पीएचडी की है। वे पिछले पंदरह साल से गीता को उर्दू में लिख रहे हैं। फिलहाल वे अस्सी प्रतिशत तक गीता के अध्याय लिख चुके हैं। गीता के अट्ठारह अध्याय हैं जिनके सात सो श्लोक है उन्हें एक हजार सात सो इक्सठ शेयरों में तब्दील किया जा रहा है। यानि जब ये कंपलीट हो जायेगी तो इसे लगातार छह घंटों तक सुना जा सकेगा।

Anup Jalota

अनवर जलालपुरी की  गीता संग्रह पर दो हजार चौदह में लगातार दो किताबें भी आ चुकी हैं। जिन्हें नाम दिया गया ‘उर्दू शायरी में गीता’ ।

अब इस संग्रह को हेल्प यू एजुकेशन चैरेटीबल ट्रस्ट म्यूजिक में ढालकर सोशल मीडिया के तहत लोगों तक पहुंचाने का काम करने जा रहा है ।

गीता के सभी श्लोक उर्दू शेयरों की शक्ल में संगीतबद्ध किये जायेगें। जिन्हें संगीतबद्ध कर रहे हैं मायथालॉजी के लोकप्रिय संगीतकार विवेक प्रकाश। और इस भारी ग्रंथ को स्वर दे रहे हैं भजन सम्राट अनुप जलौटा।

Anup Jalota

विवेक प्रकाश कहते हैं कि जब हेल्प एजुकेशन ट्रस्ट ने ये काम मुझे सौंपा गया तो मेरे लिये ये चेलेंज के साथ गर्व की बात भी थी। इससे पहले ट्रस्ट वाले स्वंय अनूप जलौटा से भी बात कर चुके थे, हालांकि अनूप जी के साथ मैं पिछले पंदरह वर्षों से काम करता आ रहा हूं, उनके साथ मेरे पारिवारिक संबंध भी रहे हैं दरअसल उनके पिता पुरूशोत्तम दास जलौटा के साथ मेरी माताजी काफी गाती रही हैं।

अस्सी प्रतिशत कंपलीट हो चुकी उर्दू गीता अगले दो तीन महिने में कंपलीट हो जायेगी। इसकी लांचिंग प्रधानमंत्री नेरेन्द्र मोदी द्धारा की जायेगी, इसके लिये ट्रस्ट और अनूप जी प्रयासरत हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये