इन त्यौहारों का हमारे जीवन में कितना महत्व है – पूजा गुप्ता

1 min


pooja 012

ब्लडमनी, विक्की डोनर, ओइ माई गॉड, सम्राट एंड कंपनी तथा विक्की वायरस में लीड रोल कर चुकी पूजा गुप्ता ने अभिनय की शुरूआत छोटे पर्दे पर स्कूल डेज, हादसा तथा रिश्ते आदि धारावाहिकों से की थी उसके बाद वो यूएसए चली गई। वहां उसने थियेटर के साथ बैले डांस भी सीखा। वहां से आने के बाद उसने परेश रावल थ्रियेटर ग्रुप ज्वाइन कर लिया और उनके प्रसिद्ध नाटक कृष्णा वर्सीस कन्हैया के काफी शोज किये। जल्दी ही उसकी रिलीज फिल्म का नाम है ‘बदलापुर ब्वायज’। एक मुलाकात में फिल्म के अलावा दिवाली को लेकर उनसे एक बातचीत।

॰ दिवाली कैसे सेलीब्रेट करती हैं?

– वैसे तो हर साल मैं दिल्ली अपने परिवार के साथ ही दिवाली सेलीब्रेट करती हूं। लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो पायेगा, क्योंकि इस बार में अपनी रिलीज होने वाली फिल्म ‘बदलापुर ब्वायज’ के प्रमोशन में बिजी हूं इसके अलावा कुछ शूट हैं। लिहाजा इस बार तो लक्ष्मी जी के साथ ही मेरी दिवाली होगी।

॰ आपके लिये दिवाली के क्या मायने हैं?

– एक हिन्दू शख्स के लिये ये बहुत ही पवित्र त्यौहार है। बचपन में तो मैं इस पर्व का महिनों पहले इंतजार किया करती थी। बड़े होने के बाद मुझे इस त्यौहार की अहमियत उस वक्त पता चली जब मैं यू.एस.ए में थी। दस साल तक हर साल टीवी पर जब मैं ये त्यौहार देखा करती थी तो देख देख कर रोना आता था।

॰ इंडियन होने के नाते आप दिवाली जैसे त्यौहारों के बारे में क्या सोचती हैं ?

– सबसे बड़ी बात कि जो हमारे तीज त्यौहार है वैसे दुनिया के किसी भी देश में नहीं हैं। और इन त्यौहारों का हमारे जीवन में कितना महत्व है। दरअसल हर त्यौहार हमें कुछ न कुछ संदेश देता है। मैं जब यू एस ए में काफी अर्सा रही लेकिन जो सुकून यहां है और कहीं नहीं।

pooja 013

॰ दिवाली जैसे पर्व पर क्या कहना चाहती हैं?

– मेरा कहना है कि इन त्यौहरों को इस तरह से मनाया जाना चाहिए कि किसी को कोई तकलीफ न हो। मैंने अक्सर देखा हैं कि कुछ शरारती तत्व सड़कों पर खड़े हो कर जाती हुई गाडि़यों के नीचे बम पटाखे जलाकर फेंकते हैं वो कितना खतरनाक होता है। ज्यादातर गाडि़यां पट्रोल और डीजल की होती है। उनके साथ हादसा हो सकता है। एक तरफ हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी सफाई अभियान चला रहे हैं लेकिन दूसरी तरफ कुछ लोग जब ऐसी हरकतें करते हैं, इस त्यौहार का मतलब ही बदल देते हैं।

॰ आपके आने वाले अन्य प्रौजेक्ट्स?

– कुछ फिल्म हैं जैसे एक सरकारी जूता, तेजाब टू, एक पंजाबी फिल्म ‘असी देस्सी’ तथा तीन फिल्में और जिनके बारे में फिलहाल बातें नहीं की जा सकती।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये