भारत की खासियतें बताती हैं प्रियंका चोपड़ा

1 min


अमेरीकन टीवी सीरीज ‘क्वांटिको’ के अलावा हॉलीवुड में काम करने के दौरान प्रियंका चोपड़ा का ज्यादातर समय अमरीका में बीतता है.जहॉं वह अमरीकी दोस्तों के साथ पार्टी करती हैं या उनसे भारत के संदर्भ में बातें करती हैं,तो उस वक्त वह अमरीकी दोस्तों को क्या बताना पसंद करती हैं?यह हर भारतीय जानने को उत्सुक है.इस बारे में प्रियंका चोपड़ा कहती हैं-‘‘मैं शिक्षक नहीं हूं.इसलिए ज्ञान देने का प्रयास नहीं करती.पर जब हम आपस में मिलते हैं और भारत को लेकर चर्चा षुरू होती है,तो भारत को लेकर उनके मन में जो गलतफहमी होती है,उन्हें दूर करने की कोशिश करती हूं.मसलन,जैसे वहां के लोग ‘चाय टी’कहते हैं.मैं उनसे कहती हूं कि यह ‘चाय चाय’ अथवा ‘चाय वाय’ है,चाय टी नहीं. न्यूयॉर्क के लोगों को लगता था कि होली एक संगीत का त्योहार है.तो मैंने उन्हें होली के असली मायने समझाए.मैने उन्हे बताया कि यह रंगो का त्योहार है.दुश्मनी को दोस्ती में बदलने का त्योहार है.इस तरह मैं लोगों को भारत के संबंध में शिक्षित करने की कोशिश करती हूं.सच कहूं तो अमरीका में रहते हुए मैं भारत को इतना ‘मिस’करती हूं कि इसी बहाने मैं वहां लोगों से भारत के बारे में चर्चा करती रहती हूं.मैं लोगों को बताती हूं कि भारत महज एक देश नही है,बल्कि एक अनूठा अनुभव है. जहां हर 100 किलोमीटर पर भाषा बदल जाती है.जहां विविधतापूर्ण संस्कृति है,पर फिर भी हम एक है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये