प्रियंका को किसने बनाया उस जमाने की महाराष्ट्रियन औरत

1 min


काशी की भूमिका निभा रही प्रियंका चोपड़ा, संजय लीला भंसाली की बहुचर्चित फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ में सौ प्रतिशत पारंपरिक महाराष्ट्रियन युवती नज़र आ रही है, उनके कपड़े, हेयर स्टाइल, नाक की नथनी, गले का मंगलसूत्र, यानि सर से पाँव तक प्रियंका सैंकड़ों वर्ष पुरानी महाराष्ट्रियन स्त्री की वेशभूषा में है, लेकिन उन्हें इतना ऑथेन्टिक रूप दिया किसने? जवाब यह है कि फिल्म के मेकर संजय लीला को जब पूणे में रहने वाली एक ऐसी पचास वर्षीय स्त्री आशा ताई के बारे में पता चला जो वहां एक छोटा-सा कपड़ो का व्यवसाय चलाती है और पुराने जमाने की महाराष्ट्रियन स्त्रियों के पोशाक तथा साज सज्जा के बारे में काफी जानकारी रखती है, तो संजय ने उन्हें प्रियंका तथा दीपिका के साज सज्जा और पोशाक को स्टाइल करने का काम सौंप दिया। आशा ने अपना काम बखूबी कर के दिखाया। कई बार वह शुटिंग के दौरान प्रियंका को मराठी डायलॉग्स का सही उच्चारण करने की ट्रेनिंग देती हुई भी दिखती है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये