प्रोफैशनलिज्म लाइफ फुल स्पीड पर दौड़ रही है -पुलकित सम्राट

1 min


-लिपिका वर्मा

एक्टर पुलकित सम्राट (Pulkit Smarat) प्रोफैशनलिज्म एवं परसनली बहुत ही बेहतरीन स्पेस में है, उनकी फिल्म ‘तैश’ जी 5 पर 28 अक्टूबर 2020 प्रीमियर हुआ है, यह फिल्म दो फॉर्मेट में रिलीज होने वाली है, फिल्म एवं वेब सीरीज की तरह!

इसके अलावा उनकी फिल्म ‘हाथी मेरे साथी’ जो हिंदी,तमिल,तेलुगू में बनी है, वह भी 15 जनवरी 2021 को थिएटर में रिलीज होगी! फिल्म ‘तैश’ कोविड-19 के चलते थिएटर में नहीं रिलीज हो पाई किन्तु पुलकित को खुशी है, की यह फिल्म अब दोनों फॉर्मेट में दिखलाई जाएगी, उनका लॉकडाउन भी बहुत ही मजे से बीता, क्योंकि उनको जो कम्पलीट करती है-कृति खरबंदा वह भी उन्ही की बिल्डिंग में रहती है और उनके कई सारे दोस्त भी उसी बिल्डिंग में रहते है!

आप का लॉकडाउन कैसे बीता, क्या आप कृति खरबंदा के साथ ‘लिव इन रिलेशनशिप में रहते है?
जी नहीं, मैं और कृति एक ही बिल्डिंग में रहते है। सो हम दोनों जब भी मन करता और समय होता तो एक दूसरे के यहाँ चले जाया करते और इस तरह हमारा लॉकडाउन का समय अच्छी तरह से गुजरा! इसी बिल्डिंग में मेरे कई सारे दोस्त भी रहते है, तो वह भी हमारे यहां आया जाया करते है, हम सभी ने काम के साथ-साथ यह समय भी अच्छी तरह से गुजारने की कोशिश की है!

आप कृति खरबंदा से कब शादी कर रहे है ?
अभी तो लाइफ में बहुत काम करना है, मेरे पास कुछ फिल्में है, तो अभी मैं काम करने में कुछ व्यस्त हूँ। सो शादी के बारे में अभी कुछ सोचा नहीं है। बहरहाल, मैरिज सर्टिफिकेट हो या न हो, यह कोई मैटर नहीं करता है, कृति मुझे कम्पलीट करती है। प्रोफैशनलिज्म लाइफ फुल स्पीड पर दौड़ रही है, सो मुझे काम पर अपना सारा ध्यान केंद्रित करे रखना होगा, बस कृति मुझे कम्पलीट करती है इस बात की मुझे खुशी है साथ इस बात की भी खुशी है कि वो अच्छा काम कर रही है!

आप की फिल्म ‘तैश’ थिएटर में रिलीज नहीं हुई क्या कहना चाहेंगे?
जी हाँ, हम फिल्म ‘तैश’ थिएटर में ही रिलीज करने वाले थे, किंतु कोविड-19 के चलते सब कुछ बदल गया और फिल्म अब जी5 पर, दो फॉर्मेट में रिलीज हो रही है। जी5 पर बतौर फिल्म और वेब सीरिज प्रीमियर होने को है 28 अक्टूबर 2020, इस बात की खुशी है मुझे निर्देशक विजय नाम्बियार ने वेब सीरीज के हिसाब से भी बखूबी एडिट किया है, सो फिल्म और वेब सीरीज दोनों ही लोगों को पसंद आएगी ऐसी हम सब को उम्मीद है!

फिल्म ‘तैश’ में क्या आप से कोई रिवेंज, बदला ले रहा है?
जैसा की फिल्म की टैग लाइन समझती है-हम अपने परिवार के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते है, यदि हमारे परिवार के लोगों पर कोई ज्यादती करता है, तो हम उस से बदला लेने के लिए किसी भी हद तक जा सकते है, ताज्जुब होगा कि मंै सभी से बदला ले रहा हूँ, यह मेरे लिए बहुत ही अलग किरदार है ,क्योंकि मेरे लुक के हिसाब से लोग यह नहीं समझ पाते है, की बदला भी ले सकता हूँ, मेरा किरदार पूर्णतः किसी भी हद तक जा सकता है बदला लेने की बात आने पर।

कुछ सोच कर पुलकित बोले-दरअसल में सभी करक्टेर्स किसी न किसी से बदला ले रहे है, इस फिल्म की कहानी बेहद अच्छी तरह से बुनी हुई है, किसी भी व्यक्ति के एक्शन पर किसी को ऐतराज हो सकता है, किन्तु जो भी उस व्यक्ति का क्रोध है वह उसके व्यक्तिगत सोच के हिसाब से जायज हो सकता है, सभी के चरित्र चित्रण में अलग-अलग शेड्स देखने को मिलेगें। स्क्रीन प्ले बेहद दिलचस्प लिखी गयी है, निर्देशक विजय नाम्बियार ने ऐसी कहानी पहली बारी लिखी है, सभी को पसंद आएगी।

‘हाथी मेरे साथी’ भी त्रिभाषी फिल्म है, हाल ही में उस फिल्म की रिलीज डेट भी घोषणा हुई है, क्या कहना चाहेंगे आप?
जी हाँ, ‘हाथी मेरे साथी’ त्रिभाषी फिल्म है, और हाल ही में उस फिल्म की रिलीज डेट की घोषणा सुनकर खुशी भी हुई है, यह फिल्म अब 15 जनवरी 2021 को थिएटर में रिलीज होगी। जी हाँ शूटिंग के दौरान हम एक साथ तीनांे भाषाओ में शूट करते थे. मैंने हिंदी वर्शन किया है जबकि तमिल और तेलुगू वर्शन विष्णु-विशल ने किया है, हम थिएटर रिलीज का इंतजार ही कर रहे है, यह एक बहुत ही मजेदार अनुभव होने वाला है, जनवरी माह की हल्की-हल्की ढंड में हाथ में गर्म-गर्म पाॅपकोर्न के साथ और धीमी-धीमी एयर कंडीशन की हवा का मजा ही कुछ और होता है, राणा दग्गुबती का सहयोग मिला बहुत अच्छा लगा और खुश भी हूँ। निर्देशक प्रभु सोलोमन के साथ काम कर मजा आया और बहुत कुछ सीखने को भी मिला है!

‘हाथी मेरे साथी’ में अपने किरदार के बारे में कुछ बतलाए?
मेरा किरदार लेट राजेश खन्ना की तरह है क्योंकि जिस तरह उनको अपने हाथी से प्रेम होता है, उसी तरह मुझे भी हाथियों से लगाव है, वो भी हाथियों की देखभाल करते थे, वैसे ही मैं भी उनसे बेहद प्रेम करता हूँ, उनकी देखभाल में कोई कसर नहीं छोड़ता हूँ, किन्तु इस फिल्म की कहानी 1971 की फिल्म ‘हाथी मेरा साथी’ से बहुत अलग है, यह कहानी वन संरक्षण पर आधारित एक बेहतरीन कहानी है।



‘हाथी मेरे साथी’ मकर सक्रांति को रिलीज हो रही है, सो अब पुलकित सम्राट की हर फिल्म इसी त्योहार को रिलीज होगी?

मेरी हर फिल्म एक फेस्टिवल पर रिलीज हो? और वो भी मकर सक्रांति को ऐसा कहना मेरे लिए यह तो बहुत बड़ी बात होगी, बस यही कहना चाहूँगा, कि यह एक टीम वर्क है और मेरे लिए कुछ भी अकेले करना संभव नहीं होता, यह उनके जुनून, क्षमताओं एवं संसाधनों की वजह से संभव हो पाया, अपने आप को धन्य मानता हूँ, मैं ऐसी टीम का हिस्सा हूँ। और खुश भी हूँ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये