रक्षाबंधन के मौके पर क्या कहा सोनी सब के कलाकारों ने

1 min


देवेन भोजानी यानी ‘वागले की दुनिया’ में बालकृष्ण गोखले ऊर्फ अन्ना की भूमिका निभा रहे हैं:

रक्षाबंधन भाई-बहनों का एक बेहद ही खास और पवित्र दिन होता है। मैं आज की पीढ़ी को मानता हूं, जब लड़का-लड़की में समानता की बात होती है तो रक्षाबंधन दो बहनों या दो भाइयों के बीच भी मनाया जाना चाहिये। ये तो उनके बीच के अटूट रिश्ते की बात होती है। दोनों को एक-दूसरे की सलामती के लिये ईश्वर से प्रार्थना करते हुए देखना वाकई एक बेहतरीन अनुभव है।

इस साल रक्षाबंधन और भी खास हो गया है क्योंकि मैं ‘वागले की दुनिया’ में ‘भाखरवड़ी’ के मशहूर किरदार बालकृष्ण गोखले ऊर्फ अन्ना के रूप में एंट्री करने वाला हूं। यह मेरी ऑन-स्क्रीन बहन राधिका वागले (भारती आचरेकर) के साथ रक्षाबंधन का एक स्पेशल ट्रैक है। परदे पर 18 सालों के बाद हमारा मिलना हो रहा है। मुझे पूरा विश्वास है, दर्शकों को इन एपिसोड्स में काफी मजा आने वाला है क्योंकि आगे ढेर सारा ट्विस्ट होगा।

रक्षाबंधन के मौके पर मैं अपने फैन्स से कहना चाहूंगा कि अपने भाई-बहनों को यूँ ही प्यार देते रहिये और उनका ख्याल रखिये। भले ही भाई-बहन दूर हों लेकिन इसे अपने कजिन और दोस्तों के साथ मनाइये, क्योंकि रक्षाबंधन एक बहुत ही प्यारा त्यौहार है।

भारती आचरेकर, ‘वागले की दुनिया’ में राधिका वागले का किरदार निभा रही हैं:

रक्षाबंधन के मौके पर मैं अपने फैन्स से कहना चाहूंगी कि अपने भाई-बहनों के साथ जुड़े रहें और एक-दूसरे से झगड़ा ना करें। मेरा यह भी मानना है कि हर कोई समान होता है और बहनों को भी अपने भाइयों को देखना चाहिये और उनकी रक्षा के लिये प्रार्थना करनी चाहिये। जीवनभर खुश रहें और एक-दूसरे का साथ निभायें।

इस साल, रक्षाबंधन पर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है क्योंकि मुझे अपने ऑन-स्क्रीन भाई अन्ना (देवेन भोजानी) के साथ रक्षाबंधन मनाने का मौका मिल रहा है। 18 सालों के बाद वे मेरे पास आ रहे हैं। आगे मजेदार एपिसोड्स आने वाले हैं। मुझे बड़ी बेसब्री से इंतजार है जब दर्शक इसे देखेंगे।

चिन्मयी साल्वी, ‘वागले की दुनिया’ में सखी वागले की भूमिका निभा रही हैं:

अपने ऑन-स्क्रीन भाई अथर्व (शीहान कपाही) के साथ ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन ढेर सारी यादें हैं। इस रक्षाबंधन पर मुझे पूरा भरोसा है कि भाई-बहन के इस रिश्ते का त्यौहार मनाकर हम एक ऐसी याद बटोर पायेंगे, जो पूरी जिंदगी हमारे साथ रहेगी।

ऐसे कई सारे एपिसोड रहें हैं जहां अथर्व, सखी का ख्याल रखता है। सबसे यादगार है जब अथर्व, सखी का पक्ष लेता है। जब सखी अपने पिता राजेश (सुमीत राघवन) को यह विश्वास दिलाने की कोशिश कर रही होती है कि वही उसके आदर्श गुरु हैं तब अथर्व उसकी मदद करता है और उसे सपोर्ट करता है।

शीहान सेट पर मेरे परिचित लोगों में सबसे बेहतरीन में से एक है। हम ऑफ-स्क्रीन भी काफी सारा वक्त एक साथ बिताते हैं। दिनोंदिन हमारा रिश्ता और मजबूत ही होता जा रहा है।

शीहान कपाही, ‘वागले की दुनिया’ में निभा रहे हैं अथर्व वागले की भूमिका:

जब हम लॉकडाउन के दौरान आउटडोर शूटिंग कर रहे थे तो मेरी ऑन-स्क्रीन बहन सखी (चिन्मयी साल्वी) और मेरा रिश्ता और भी गहरा हो गया। हर दिन के साथ हमारा बॉन्ड और भी मजबूत होता जा रहा है। आज ऐसा है कि हम ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन भी एक-दूसरे का ख्याल रखते हैं।

इस साल सखी और अथर्व के लिये रक्षाबंधन कुछ अलग होने वाला है। दर्शकों के लिये यह एक बड़ा सरप्राइज होगा और मुझे पूरा विश्वास है कि दर्शकों को काफी मजा आने वाला है।

अंश सिन्हा, ‘तेरा यार हूं मैं’ में ऋषभ बंसल का किरदार निभा रहें हैं:

मेरा मानना है कि रिश्ते हमेशा के लिये बनते हैं और समय के साथ वे बेहतर होते जाते हैं। मेरी ऑन-स्क्रीन बहन त्रिशला (निहारिका रॉय) और मेरे बीच काफी प्यारा रिश्ता है। हम एक-दूसरे का पूरा ख्याल रखते हैं, चाहे वह ऑफ-स्क्रीन ही क्यों ना हो। यह त्यौहार भाई-बहनों को करीब लाता है।

आगे आने वाले एपिसोड्स में ड्रामा सामने आने के बाद भी त्रिशला और ऋषभ भाई-बहन के रूप में एक-दूसरे का प्यार और समझ को नहीं भूलेंगे। दर्शकों को इस शो से ऐसी ही चीजों की उम्मीद होती हैं। दोनों एक-दूसरे के साथ अपना रिश्ता हमेशा की तरह बनाकर रखेंगे।

निहारिका रॉय ‘तेरा यार हूं मैं’ में त्रिशला का किरदार निभा रही हैं:

रक्षाबंधन हर साल मेरे लिये एक रस्म की तरह होता है। मुझे अपना ऑन-स्क्रीन भाई ऋषभ  (अंश सिन्हा) बहुत प्यारा है। ‘तेरा यार हूं मैं’ की शूटिंग के दौरान समय के साथ हमने खूब सारी अद्भुत यादें बटोरी हैं।

जब अंश मेरे आस-पास होता है तो मैं सुरक्षित महसूस करती हूँ, चाहे ऑफ-स्क्रीन हो या फिर ऑन-स्क्रीन। ऋषभ हमेशा ही अपनी बहन के लिये अच्छा सोचता है और उसका ख्याल रखता है। मैं उम्मीद करती हूं और प्रार्थना करती हूं कि यह बंधन और भी मजबूत हो और हमेशा बना रहे। इससे बेहतर ऑन-स्क्रीन भाई मुझे नहीं मिल सकता था।

SHARE

Mayapuri