होली के त्योहार पर सोनी टेलीविजन के सितारों ने साझा किये अपने विचार

1 min


‘ये उन दिनों की बात है’ में नैना की भूमिका निभाने वाली आशी सिंह होली पर अपने विचार साझा करती हैं

“इस बार मैं अपनी ‘ये ​उन दिनों की बात है’ की स्टारकास्ट के साथ 90 के दशक की स्टाइल में होली मनाउंगी। हमने सेट पर 90 के दशक के गानों पर डांस पार्टी रखने और गुलाल से होली खेलने की योजना भी बनाई है। पिछले साल की होली काफी यादगार थी, क्योंकि मुझे अपने दोस्तों के साथ होली खेलने का मौका मिला था और आमतौर मैं केवल अपने परिवार के साथ खेलती हूं। होली पर, मैंने अपने त्वचा का खास ख्याल रखती हूं और बालों की सुरक्षा करने के लिए उसमें सरसो का तेल लगाती हूं। इस बार, मैं शूटिंग करती रहूंगी लेकिन हां मैं होली के लिए वाकई काफी उत्साहित हूं।” ये उन दिनों की बात है की आशी सिंह कहती हैं।

Ashi Singh from Yeh Un Dinon Ki Baat Hai

‘मेरे सांई’ में बाइजा की भूमिका निभाने वाली तोरल रसपुत्रा, होली पर अपने विचार व्यक्त करती हैं:

 “मैं सुरक्षित और इकोफ्रेंडली होली मनाने में विश्वास करती हूं। इस साल मैंने अपने परिवार के साथ होली मनाने और ढेर सारी मिठाइयां खाने की योजना बनाई है। मैं दृढ़ता से यह मानती हूं कि हमें कम पानी के साथ और इकोफ्रेंडली होली खेलनी चाहिए और इस त्योहार के दौरान पानी की बर्बादी नहीं करनी चाहिए।”

‘रिश्ता लिखेंगे हम नया’ में दीया की भूमिका निभाने वाली तेजस्वी प्रकाश, होली के लिए अपनी योजनाएं साझा करती हैं:

मेरी सबसे यादगार होली बचपन में मेरे भाईयों के साथ थी। हम रंगीन पानी ने गुब्बारे फुला लिया करते थे और फिर उन्हें एक-दूसरे पर फोड़ा करते थे। इस दिन पारिवारिक मेल-मिलाप होता था और त्योहार ही वे दिन हैं जब आप असल में अपने व्यस्त शेड्यूल से बाहर निकल सकते हैं। इस साल होली का उत्सव मैं निजी तौर पर मनाने जा रही हूं और मैं अपने परिवार और करीबी दोस्तों के साथ क्वालिटी टाइम बिताउंगी। मैं पानी बचाने में विश्वास करती हूं, इस​ वजह से मैंने रंगों से होली खेलना बंद कर दिया है क्योंकि यह टिक जाते हैं आपकी त्वचा को प्रभावित और पानी बर्बाद करते हैं। होली के लिए मेरी स्किनकेयर का रूटीन रंग खेलने के लिए जाने से पहले ढेर सारा तेल लगाना है। अतीत में, एक अजीबोगरीब वाकया मेरे साथ हुआ, जब मैं ऑटो से सफर कर रही थी और एक अजनबी ने मेरे ऊपर पानी का गुब्बारा फोड़ दिया था। इससे मैं गुस्सा हो गई थी लेकिन मैंने हंसकर इसे टाल दिया था। मुझे भरोसा है, कि उसने इसे एक सुपर कूल त्योहार बनाया होगा!

‘एक दीवाना था’ में शरण्या की भूमिका निभाने वाली डॉनल बिष्ट, होली पर अपने विचार व्यक्त करती हैं:

मुझे रंगों का त्योहार होली बहुत पसंद है। मुझे घर पर अपने परिवार और दोस्तों के साथ त्योहार मनाना बहुत पसंद है। होली एक ऐसा त्योहार है जिसे सबसे अच्छी तरह से अपने स्कूल और बचपन के दोस्तों के साथ मनाया जाता है। भीगना और रंगीन कपड़ों और बालों के साथ भागना एक बहुत प्यारा अनुभव है। यह पूरा उत्सव संगीत बजाने के लिए एक बैंड और बॉलीवुड गानों पर डांस किए बिना अधूरा है। मैं दिल्ली से हूं और इस त्योहार के समय में विभिन्न स्टॉल्स लगाए जाते हैं। मैं अपने दोस्त के घर जाते और और परिवार में सभी पर रंग फेंकते। मेरी एक खास मेमरी है, जब मां इस अवसर पर गुजिया बनाया करती थी और इस त्योहार से एक रात पहले हम सभी सदस्य एक साथ बैठ जाते थे और इसे मनाते थे। मैं निश्चित नहीं हूं कि इस साल मैं होली मनाने अपने घर जाउंगी या नहीं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि मैं ऐसा कर पाउंगी।

‘पृथ्वी वल्लभ’ में मृणाल की भूमिका निभाने वाली सोनारिका भदौरिया, होली पर अपने विचार व्यक्त करती हैं:

जब मैं छोटी बच्ची थी, तो मुझे खेलना बहुत पसंद था और मेरी होली का उत्सव काफी आॅर्गेनिक हुआ करता था। मेरी मां को चंदन से खेलने की आदत थी और वह फूलों को पीसकर रंग बना लिया करती थी। जब मैं बड़ी हुई, तो मैं यह उत्सव मनाना बंद कर दिया क्योंकि मैंने पाया कि ये उत्सव महिलाओं के प्रति अश्लील और असम्मानीय बन गए हैं। पिछली बार जब मैंने होली खेली थी, तब मैं 9 या 10 साल की थी। हम होली के दौरान शूटिंग करते रहेंगे इसलिए मैंने चंदन लाने और अपने को-स्टार्स के साथ सेलिब्रेट करने की योजना बनाई है। मुझे ‘होलिका दहन’ का विचार भी बहुत पसंद है जिसे ‘छोटी दिवाली’ भी कहते हैं, इसकी अवधारणा और इतिहास की वजह से जो बताते हैं कि बुराई पर अच्छाई की जीत होती है।

‘पोरस’ में ओलिम्पिया की भूमिका निभाने वाली समीक्षा सिंह कहती हैं,

मुझे होली का एक किस्सा याद है जब मेरे कुछ दोस्तों ने मुझे भांग पिला दी थी और वह एक मजेदार अनुभव बन गया था। हम सभी ने डांस करना और हंसना शुरू कर दिया था और इसके बारे में मुझे अगले दिन पता चला जब मेरे दोस्तों ने मुझे इसके बारे में बताया। उसमें बहुत मजा आया था और अब भी हम उस वाकये को याद करके हंसते हैं। साथ ही, होली मुझे एक होली के गाने की भी याद दिलाती है, एक पंजाबी फिल्म के लिए जिसकी शूटिंग मैंने पांच दिन तक की थी। हमें पूरे दिन रंगों और पानी के साथ खेलना था। इस बार होली में, मैं शायद अपने शो के लिए शूटिंग करती रहूं और अपने को-एक्टर दोस्तों के साथ इसे मनाना चाहूंगी। मैं इस होली पर बिना शक्कर वाली मिठाईयां बनाने वाली हूं और सबको खिलाउंगी।


➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram परa जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये