इस दिवाली पर मैं काम करता रहूगां – राजकुमार राव

1 min


बॉलीवुड में कब और कैसे किसी की दीपावली हिट हो जाये कोई नहीं जानता। अब जैसे ये साल राजकुमार राव के लिये बहुत ही हिट और शुभ रहा है। इस वर्ष पार्च्ड, फिल्म ‘बरेली की बर्फी’ में राजकुमार एक अलग रोल में नजर आये जिसके लिये उन्हें काफी पंसद किया गया। इसके बाद उनकी फिल्म ‘न्यूटन’ न सिर्फ हिट रही बल्कि वो ऑस्कर तक जा पहुंची। राजकुमार की अगली फिल्म का नाम हैं ‘शादी में जरूर आना’ । इसके ट्रेलर लांच पर राजकुमार से दिवाली को लेकर हुई एक छोटी सी बात।

ये दिवाली आपके लिये बहुत ज्यादा शुभ रही है ?

बिलकुल। इस वर्ष मेरी लगातार फिल्में रिलीज हुई और तकरीबन सभी पंसद की गई। लिहाजा आप कह सकते है इस साल तो मेरी हर दिन मेरी दिवाली रही।

दीवाली को लेकर आप क्या सोचते हैं ?

दीवाली हिन्दुओं के लिये एक पौराणिक और बहुत ही शुभ त्यौहार माना जाता रहा है। ये एक ऐसा त्यौहार है जिसके सदके साल में हर घर की साफ सफाई तो हो ही जाती हैं साथ ही लोगों के मन की भी साफ सफाई होती है हर किसी के दिमाग में धार्मिकता घर कर लेती है लिहाजा घरों के सभी सदस्य एक अंजानी सी खुशी महसूस करने लगते हैं।

आप किस प्रकार ये पर्व सेलिब्रेट करते हैं ?

बचपन में मैं दिवाली को लेकर बहुत उत्साहित रहा करता था। दिवाली आने से पंदरह दिन पहले से ही मैं पटाखे सुरसुरी वगैरह जमा करना शुरू कर देता था। कई बार हाथ पैर पटाखों के बारूद से जले भी, लेकिन छोटी मोटी चोट को लेकर मैने कभी परवाह नहीं की।

इस बार की दीवाली आपके लिये क्या मायने रखती है ?

सभी को पता है कि ये साल कॅरियर वाइज मेरे लिये काफी बढ़िया जा रहा है। इस साल मैं लगातार अपनी फिल्मों की शूटिगं कर रहा हूं। इस दिवाली पर भी मैं काम करूंगा।

इस बार दिल्ली , मुबंई तथा कुछ अन्य शहरों में पटाखों पर पूरी पांबदी लगा दी गई। इस बारे में आपका क्या कहना है ?

बेशक सरकार द्धारा उठाया गया ये कदम अच्छा है। क्योंकि भारी भरकम बम पटाखें एक तो प्रदूषण फैलाते हैं दूसरे उनकी आड़ में आतंकी हमले का भी डर बना रहता है। हां इतना जरूर कहूंगा कि दिवाली जिसे दीप और रौशनी का पर्व कहा जाता है इसलिये फुलझड़ी या इसी तरह की छोटी और हल्की आतिशबाजी पर रोक नहीं लगनी चाहिये।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये