मैंने सुझाव दिया था कि मुझे मत मारो – राकेश रोशन

1 min


Rakesh-Roshan-2

 

 

मायापुरी अंक 49,1975

उस दिन सन एन सेन्ड होटल में ‘टिंकू’ की पार्टी में राकेश रोशन से भेंट हो गई। हमने उनसे पूछा।

क्या यह सही है कि फिल्म ‘खेल खेल में’ के निर्माण काल में ऋषि कपूर ने आपके रोल को कटवाने की कोशिश की थी जिस पर आपका उनसे झगड़ा हो गया था?

नहीं, यह बात सही नहीं है। हमारा सैट पर कभी झगड़ा नही हुआ। राकेश ने खंडन करते हुए कहा।

लेकिन फिल्म देखने पर ऐसा लगता है कि आप के रोल के साथ अन्याय हुआ है, क्या यह गलत है?

लेकिन उसके लिए न चिंटू जिम्मेदार है और न ही निर्देशक रवि टंडन साहब ! मैंने कहानीकार को सुझाव दिया था कि मुझे मत मारो लेकिन जिस तरह भगवान के लिखे को कोई नहीं टाल सकता, उसी तरह आज लेखकों के लिखे को भी टालना बड़ा ही मुश्किल होता है। राकेश बोले। आप उसे छोड़िये अब मेरी बड़ी अच्छी-अच्छी फिल्में बन रही हैं। यह देखियेगा। उनमें एक तो विजय आनंद की ‘बुलेट’ है जिसमें देव साहब हीरो हैं और दूसरी एन.सी.सिप्पी की फिल्म है जिसे रवि टंडन डायरेक्ट कर रहे हैं। राकेश रोशन ने बताया।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये