घरेलू पार्टियां देना पसन्द है – रणजीत

1 min


reshma-aur-shera_ranjeet
रणजीत स्टूडियो में फिल्म ‘धर्मवीर’ के सैट पर रणजीत से भेंट हो गई। रणजीत हमें देखते ही शिकायत करने लगे।
यार यह आपकी ‘मायापुरी’ में मेरा नाम बिना वजह ही बिन्दू के साथ जोड़ा जा रहा है। लिखने वाले समझते होंगे कि मुझे ऐसी खबरे पढ़कर खुशी होती होगी लेकिन ऐसा नहीं है। मुझे पब्लिसिटी के लिए किसी लड़की के सहारे की आवश्यकता नहीं है। वह और होंगे जो इस प्रकार की खबरों से खुश होते हैं। आप इतनी अच्छी पत्रिका निकाल रहे हैं। इसे ऐसा रूप मत दीजिए कि लोग इससे चिढ़ने लगें। जैसे कि दिल्ली की अन्य पत्रिकाएं हैं। गंभीर स्वभाव के लोग इसे पसन्द नहीं करते आप क्या पसंद करते हैं? हमने पूछा।
अच्छी और सच्ची खबरें स्वस्थ पत्रिका की शान होती है। पीली पत्रकारिता के कारण फिल्म वाले पत्रकारों से नाराज हो गए हैं। मैं हर शनिवार की रात को अपने घर पार्टी का आयोजन करता हूं जिसमें अपने नौजवान दोस्तों को बुलाता हूं रात भर हुंडदंग मचता है। अगले दिन रविवार को सोकर गुजार देते हैं सारे हफ्ते की थकान और बोरियत दूर हो जाती है। रणजीत ने बताया शनिवार को 6 बजे के बाद में शूटिंग नहीं करता। एमरजेन्सी की बात और है। मजबूरी हो तो शनिवार की बजाय रविवार को पार्टी का आनंद लेते हैं। यह विशुद्ध घरेलू पार्टी होती है जिसमें अखबार वालों को नहीं बुलाते रणजीत ने बताया।
अखबार वालों को न बुलाने की वजह?
लोग अखबार वालों को देखकर कॉनशियस हो जाते हैं और पार्टी का वातावरण बोझिल हो जाता है। रात भी पार्टी थी जिसमें डब्बू बबीता, चिन्टू, परवीन बॉबी, डैनी विनोद खन्ना, गीतांजलि, विनोद मेहरा, मौसमी, रितेश, आशा सचदेव आदि आए हुए थे। रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक डांस और गाना बजाना होता रहा।
रणजीत ने बताया।
आपने पार्टी कहां की थी? हमने पूछा।
आपने नए घर में जो कि सिल्वर बीच में संजय के घर के साथ है। अभी वहां शिफ्ट नहीं हुआ हूं। बारिश बाद शिफ्ट होने का इरादा है। रणजीत ने कहा।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये