टाइटल तो मैंने ले लिया – सुल्तान अहमद

1 min


044-35 Sultan Ahmed

 

मायापुरी अंक 44,1975

रूपतारा स्टूडियो में ‘संग्राम’ के सैट पर निर्देशक सुल्तान अहमद से भेंट हो गयी। हमने उनसे पूछा।

“सुल्तान साहब आपने भी मिर्जा गालिब पर फिल्म बनाने की घोषणा की है और गुलजार ने भी की है। और दोनों में ही संजीव कुमार टाइटल रोल कर रहे हैं। क्या एक नाम से दो फिल्में बन सकेंगी?

मेरी फिल्म में गालिब की भूमिका अब संजीव कुमार नहीं कर रहे हैं। वह अब पहले से बहुत मोटे हो गये हैं वह अपने आपको मैनटेन नहीं कर रहे हैं। मैं अब इसके लिए दिलीप कुमार, मनोज कुमार और अमिताभ बच्चन से बात कर रहा हूं देखिए, कौन गालिब का रोल करता है? आपके क्या ख्याल हैं? सुल्तान अहमद ने हमारे प्रश्न का उत्तर देते हुए हम से ही प्रश्न करते हुए पूछा।

तीनों ही आदमी फिट हैं, लेकिन दिलीप कुमार गालिब को ज्यादा सूट करेंगे। लेकिन इतने आप फिल्म बनायेंगे, उतनी देर में तो गुलजार अपनी फिल्म रिलीज भी कर देंगे। हमने कहा।

गुलजार टाइटल तो नही ले सकते क्योंकि मैंने गालिब, मिर्जा गालिब, असद उल्लाह गालिब, शायरे आज़म गालिब सभी टाइटल रजिस्टर करवा रखे हैं। और जहां तक मैं समझात हूं गालिब का विषय ऐसा नही है कि उस पर दो महीने में फिल्म बनाकर ठोक दी जाए। मैं तो के, आसिफ का शार्गिर्द हूं इसलिए उसी लेवल पर फिल्म बनाऊंगा। अगर गुलज़ार बना भी लेते हैं तो मेरी फिल्म पर कोई असर नही पड़ेगा। बल्कि मेरी फिल्म को पब्लिसिटी मिलेगी और लोग इंतजार करेंगे कि मेरी फिल्म कब रिलीज़ होगी है? इसके लिए मैंने चोटी के कहानीकारों की सेवाएं प्राप्त की हैं। वजाहत मिर्जा आदि चार पांच आदमी इसकी स्किप्ट लिख रहे हैं। यह सोहराब मोदी की गालिब की तरह की सस्ती रोमांटिक फिल्म नही होगी। इसमें ऐतिहासिक किरदारों का पूरा-पूरा ध्यान रखा गया है। मेरी फिल्म गालिब के शायाने शान होगी, सुल्तान अहमद ने आत्म विश्वास के साथ कहा।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये