रवि जाधव बनाएंगे ‘‘बालक पालक’’ को हिंदी में

1 min


मराठी भाषा में ‘‘नटरंग’’ और ‘‘बालक पालक’’ सहित लगातार पांच फिल्में निर्देशित कर हर फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार सहित कई पुरस्कार पा चुके रवि जाधव अपनी पहली हिंदी फिल्म ‘‘बैंजो’’ को लेकर काफी उत्साहित हैं। इतना ही नहीं अब वह ‘बालक पालक’ को भी हिंदी में बनाने पर विचार कर रहे हैं। खुद रवि जाधव कहते हैं-‘‘मैं ‘बालक पालक’ को हिंदी में बनाने की सोच रहा हूं। नए सिरे से पटकथा लिखना शुरू किया है। ‘बालक पालक’ में महाराष्ट्र के टिपिकल गांव की चाल में रहने वालों की कहानी थी। अब राष्ट्रीय स्तर पर जब हम बनाएंगे, तो काफी बदलाव होगा। पर कंटेंट व किरदार वही रहेंगे। किरदारों की पृष्ठभूमि व जगह बदल जाएगी। फिल्म की कहानी बहुत सशक्त है। मगर अब वीडियो देखने के तरीके बदल चुके हैं, उसे तो हमें हिंदी फिल्म में बदलना पड़ेगा। हर इंसान के पहली बार पोर्नोग्राफी फिल्म देखने के अनुभव अलग होते हैं, उन्हें समझना जरुरी है। हम उसे समझ रहे हैं। ‘बालक पालक’ के बाद अब लोग पोनोग्राफी को लेकर बात करने लगे हैं।’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये