रवि तेजा

1 min


हैप्पी बर्थडे रवि तेजा

रवि तेजा तेलगु सिनेमा के सबसे ज़्यादा पे करने वाले एक्टर हैं व जिन्हें ‘मास्स माह राजा’ के नाम से भी जाना जाता है वो रविशंकर राजू के रूप में जग्गम्पेता आंध्र प्रदेश भारत में 26 जनवरी 1968 को पैदा हुआ थे।  इनके पिता राज गोपाल राजू एक फार्मासिस्ट थे और माँ का नाम राज्य लक्ष्मी भूपतिराजू था जो एक हाउस वाइफ थी। रवि तेजा का ज़्यादातर समय नार्थ इंडिया में बिता जिसकी वजह से इनकी स्कूलिंग  जयपुर,दिल्ली, मुम्बई और भोपाल से हुई और इन्होंने अपनी स्कूलिंग ऐन.एस.ऍम. पब्लिक स्कूल , विजयवाड़ा से की और ग्रेजुएशन बैचलर्स इन आर्ट्स में सिद्धार्थ डिग्री कॉलेज, विजयवाड़ा से की । रवि तेजा की शादी कल्याणी तेजा से सं 2000 में हुई व इनके 2 बच्चे भी हैं।

रवि तेजा तब तक 60 फिल्मो में काम कर चुके हैं और इन्होंने अपने करीर की शुरुआत सपोर्टिंग आर्टिस्ट के रूप में 1990 की फिल्म ‘कार्थावयम’ से की तेजा असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में भी कई बॉलीवुड और तेलुगु  फिल्मो में काम चुके हैं और कई फिल्मो में बहुत से छोटे छोटे रोल्स भी किये जैसे चैतन्य (1991), आज का  गूंडा राज (1992), अल्लारी प्रियुडु (1993), निन्ने पेलादत (1996) और सिन्दूरं (1997) आदि ।

लेकिन रवि तेजा का प्रोफेशनल करियर 1999 की सुपरहिट फिल्म ‘नी कोसम इन’ से शुरू किया जिसके लिए इन्हें नंदी अवार्ड  से भी सम्मानित किया गया उसके बाद इन्होंने अपने धमाकेदार करियर की शुरुआत की और  इतलु सरवानी सुब्रमण्यम (2001), अवुनु वल्लिड्दारु इस्टा पड्दारु (2002), इडियट (2002), खड्गं (2002), अम्मा नान्ना ओ तामिला अम्माई (2003), वैंकी (2004), ना ऑटोग्राफ (2004), भद्रा  (2005), विक्रमारकुडु (2006), दुबई सीनू (2007), कृष्णा (2008), किक (2009), डॉन सीनू (2010), मीरापाकाय (2011), दारुवु(2012), बलुपु (2013), पावर (2014), किक 2 (2015) और बंगाल टाइगर (2015) जैसी फिल्मे दी।

SHARE

Mayapuri