Advertisement

Advertisement

रैड एफएम की ‘साउथ साईड स्टोरी’ ने मुंबईकरों को किया मंत्रमुग्ध

0 5

Advertisement

सबसे बड़े और सबसे ज़्यादा पुरस्कृत प्राइवेट रेडियो नेटवर्क्स में से एक 93.5 रैडएफएम ने मुंबई में साउथ साईड स्टोरी के पहले चरण को पूरा कर लिया है। रैड एफएम के इस अनूठे और अपनी तरह के पहले महोत्सव ने देश के अन्य क्षेत्रों को दक्षिणी भारत के संगीत, व्यंजनों और संस्कृति का लुत्फ़ उठाने का मौका प्रदान किया। महोत्सव का आयेजन आज रिचर्डसन और क्रूडास, मुंबई में किया गया, जहां 1500 से अधिक उपस्थितगणों ने हिस्सा लिया।

कार्यक्रम की शुरूआत साउथ के फ्लेवर्स यानि दक्षिणी व्यंजनों के साथ हुई इस अवसर पर दोपहर भोज सद्दया का आयोजन भी किया गया, जिसमें केले के पत्ते पर स्वादिष्ट दक्षिण भारतीय व्यंजन परेसे गए। चेदावदयम  और केरल के ड्रम की आवाज़ ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके अलावा पंचतत्वा बैण्ड ने अपने आधुनिक एवं भारतीय शास्त्रीय संगीत के अद्भुत संयोजन के साथ के साथ दर्शकों का मन मोह लिया। इसके अलावा प्रशिक्षित कलाकारों के द्वारा भारतीय मार्शल आर्ट कलारीपयात्तु का शानदार प्रदर्शन किया गया। संगीत परफोर्मेन्स की शुरूआत पंचतत्वा बैण्ड के साथ हुई और जाने माने इंडी बैण्ड्स अगम और थाईकुड्डम ब्रिज ने अपने शानदर परफोर्मेन्स के साथ कार्यक्रम का समापन किया।

मुंबई में साउथ साईड स्टोरी की सफलता पर अपने विचार अभिव्यक्त करते हुए रैड एफएम एण्ड मैजिक एफएम की सीओओ और डायरेक्टर निशा नारायणन ने कहा, ‘‘रैड एफएम में हमारी पूरी टीम मुंबईकरों के शानदार परफोर्मेन्स से बेहद खुश है, जिन्होंने इस महोत्सव को कामयाब बनाया है। भारतीय संगीत के उभरते परिवेश को ध्यान में रखते हुए इस महोत्सव का आयोजन किया गया, जिसमें गुमनाम क्षेत्रीय संस्कृति को महानगरों में लाने का प्रयास किया गया है। ‘साउथ साईड स्टोरी’ रैड इंडीज़ का विस्तार है, यह देश भर से स्वतन्त्र कलाकारों और क्षेत्रीय संगीत को बढ़ावा देने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है। हम साउथ साइड स्टोरी की सफलता का श्रेय सभी श्रोताओं और उनके बेजोड़ सहयोग को देते हैं। हम 7 सितम्बर को दिल्ली संस्करण का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं और उम्मीद करते हैं कि दिल्लीवासी भी उतने ही उत्साह एवं जोश के साथ कार्यक्रम में हिस्सा लेकर इसे सफल बनाएंगे, जैसा मुंबईकरों ने किया है।’’

खाद्य प्रेमी हों या संगीत प्रेमी या कोई भी व्यक्ति जो संस्कृति का वास्तविक अनुभव पाना चाहता है, कार्यक्रम में सभी के लिए कुछ न कुछ था। इसके अलावा इमर्सिव थिएटर कलाकारों ने बड़े ही रोचक और नाटकीय अंदाज़ में राजा महाबली और वामन की कथा प्रस्तुत की। रैड एफएम की साउथ स्टोरी मलयाली एवं गैर-मलयाली लोगों के लिए बेहद रोच.क थी, जिन्हें मुंबई में पहली बार दक्षिण-भारतीय संस्कृति का बेजोड़ अनुभव पाने का मौका मिला।

साउथ स्टोरी का आयोजन 7 सितम्बर को दिल्ली के ज़ोरबा में भी किया जाएगा।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply