रेखा गायब हो गई

1 min


 

rekha

 

मायापुरी अंक.5.1974

रेखा एक फिल्म की शूटिंग कर रही थी। शॉट के लिए सैट पर आवश्यक तैयारियां हो रही थी। जब शॉट रेडी हो गया तो रेखा को बुलाने के लिए एक सहायक मेकअप रूम में पहुंचा। उसने देखा कि रेखा का वहां कोई नाम निशान तक नही है।

रेखा के इस तरह अदृश्य हो जाने का यह कोई पहला अवसर नही था। वह इससे पूर्व भी कई बार इसी तरह गायब हो चुकी है। दरअसल उसके दोस्तों की संख्या इतनी ज्यादा है कि सबको डेट देने और घूमने-फिरने के लिए समय निकालना बड़ा मुश्किल काम है। इसलिए अपनी मुश्किल का हल उसने यह निकाला है। एक बार की बात है कि वह पूना शूटिंग करने जा रही थी। उसका निर्माता जो उसकी आदत से भली भांति परिचित है स्वयं कार चला रहा था कि कही रेखा गायब न हो जाए। खन्डाला आने पर रेखा ने निर्माता से मुंह आदि धोने की इच्छा प्रकट की और होटल में चली गई। निर्माता उसका इन्तजार करता ही रह गया और वह होटल से गायब हो गई।

प्रॉडक्शन मैनेजर उसे खोजता हुआ बम्बई जा पहुंचा और उसे एक जगह जा पकड़ा। उसने जब रेखा से इस तरह गायब होने का कारण पूछा तो वह बोली, मैं अपनी सीट पर बैठे-बैठे उसके बालों का गन्दा स्टाईल देखकर बीमार हो गई। अपने निर्माता से कहो कि वह अपने बालों का स्टाईल बदल दे, अगर वह यह चाहता है कि मैं उसकी फिल्म में काम करूं रेखा ने अपनी शर्त रखते हुए कहा।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये