ऋचा चढ़ा ने सोशल मीडिया की मदद से लॉकडाउन में थोक से राशन का इंतेज़ाम किया

1 min


Jyothi Venkatesh

कोरोना वायरस की महामारी के चलते हर सक्षम व्यक्ति एक दुसरे की मदद कर रहे है। वहीँ कई सारे प्रभावक और सेलिब्रिटीज भी भारी मात्रा में दान देते हुए नज़र आ रहे है। अभिनेत्री ऋचा चढ़ा ने भी ये ज़िम्मेदारी लेते हुए जमीनी स्तर से लोगो की मदद करने की ठान ली। ऋचा को अपने मित्र द्वारा ये जानकारी प्राप्त हुई की उनके इलाके के गुरुद्वारा में रोज़ाना कई सौ लोगो का खाने का इंतेज़ाम किया जा रहा है जो सख्त निति के कारन नगद पैसे नहीं लेते केवल राशन की शक्ल में दान लेते है। ऋचा ने इस गुरुद्वारा को थोक से राशन देने का संकल्प लिया।

ऋचा ने हाल ही मैं अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पे मदद मांगते हुए ये पोस्ट किया की थोक में ६०० kg दाल, चावल और आटा कहाँ से प्राप्त किया जा सकता है। इस पोस्ट के अगले दिन ही एक परविवार आगे आया ऋचा की मदद करने के लिए। यह परिवार थोक से राशन कहाँ से प्राप्त किया जा सकता ये जानकारी ऋचा को उपलब्ध करवाई। यह परिवार लॉकडाउन में खुद कई संस्थाओं की राशन पहुंचने में मदद कर रही है। ऋचा खुद ये राशन उठाने पहुंच गयी और गुरुद्वारा में पूरा राशन पंहुचा दिया। ऋचा इस परिवार को धन्यवाद् दिया और इनके काम से प्रभावित भी हुई।

ऋचा कहती है, “यहाँ की गुरुद्वारा रोज़ाना बड़ी संख्या में राशन का इस्तेमाल कर गरीबों का खाना खिला रहे है। २५० kg आटा की यहाँ रोज़ खपत होती है। मैंने हर हफ्ते इस गुरुद्वारा में थोक से राशन देने का संकल्प किया है। इसलिए मैंने अपने इंस्टाग्राम पे पोस्ट किया था। किसे पता था सोशल मीडिया इस बुरे हालत में इतना कारगार साबित होगा। वक़्त रहती ही एक परिवार ने मुझसे संपर्क किया जो थोक से राशन इंतेज़ाम करने के कार्य में है। एहि वो समय है जब सब सब एक दुसरे की मदद करने लिए आगे आये। एक कहावत है “नेकी कर दरिया में दाल” जिसका पालन बहुत से लोग करते है पर मैं अपने इस काम से सोशल मीडिया के माध्यम द्वारा लोगो तक पहुँचाना चाहती हु ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को मैं प्रेरित कर सकू की वो आगे आये डोनेशन देकर बेसहारा और भूके लोगो की इस कठिन समय में मदद कर सके।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये