नवम्बर में ऋषि कपूर और परेश रावल समधी बनने वाले हैं ?

1 min


नवम्बर का महीना शादियों का महीना माना जाता है और इस नवम्बर को पावर हाउज़ एक्टर ऋषि कपूर और धमाकेदार एक्टर परेश रावल एक दूसरे के समधी बनने जा रहें हैं। आप सबको याद होगा कि यह दोनों सीनियर कलाकार एक दूसरे के साथ आज से तेईस वर्ष पहले सुपरहिट फिल्म ‘दामिनी’ में काम कर चुके है और आज वे एक पारिवारिक रिश्ते में बंधने जा रहें है। ओके, ओके, इससे पहले की आपका दिमाग वाइल्ड ड्रीम्स बुनना शुरू करे की किसकी बेटी किसके बेटे से शादी कर रही है, मै आपको बता दूँ कि नवम्बर महीने में रिलीज़ होने वाली निर्माता भरत पटेल और निर्देशक लेखक संजय छेल की भोलेनाथ मूवीज़ के बैनर तले बनने वाली, फनी रॉम कॉम फिल्म ‘पटेल की पंजाबी शादी’ की बात कर रही हूँ जिसकी शूटिंग हाल ही में पूरी हो गई है। यह हास्य से भरपूर, पंजाबी और गुजराती के क्रॉस कल्चर की, आपस में रोलर कॉस्टर राइड की कहानी है। पंजाबी लड़के का किरदार निभा रहा है एक्टर वीर दास और उनके रुआबदार पक्के पंजाबी पापा का रोल कर रहें है ऋषि कपूर जो इस फिल्म में कॉमेडी के इन्तिहा में नजर आएंगे। गुजराती लड़की का रोल प्ले कर रही है एक्ट्रेस पायल घोष जिसके कड़क गुजरती पापा के रोल में परेश रावल दर्शकों को हँसा हँसा कर लोटपोट करने को तैयार हैं। इस फिल्म के अन्य कलाकार हैं सदाबहार विलन प्रेम चोपड़ा, साथ में है जीनल बलानी, दिव्या सेठ, भारती आचरेकर और टीकू तलसानिया।

Vir Das, Rishi kapoor, Paresh Rawal
Vir Das, Rishi kapoor, Paresh Rawal

मेरी मुलाकात फिल्म की नायिका पायल घोष से होती है तो वे बताती है, “मैंने हमेशा ऐसी ही फिल्म के साथ अपने फिल्म करियर की शुरुआत करने का सपना देखा था जो पूरा हुआ, मैं इसी तरह की सिम्पल गर्ल नेक्स्ट डोर वाली भूमिका चाहती थी, क्योंकि दर्शक ऐसे किरदार से ज्यादा जुड़ा हुआ महसूस करतें है। ऋषि कपूर के साथ काम करने के अनुभव को शेयर करते हुए वे बोली,”ऋषि जी बेहद केयरिंग और स्पष्टवादी इंसान है, अगर उन्हें मेरा मेकअप ठीक न लगे तो मुँह पर बोल देतें हैं कि यार यह मेकअप जँच नहीं रहा है, अगर ठीक एक्ट नहीं किया तो बोल देंगे की आप फिर से ट्राय करो, उधर परेश जी के साथ कैमरे के सामने या कैमरे के पीछे जब भी मै इंटरैक्ट करती तो मुझे लगता मै अपने रियल पापा से बात कर रहीं हूँ। मेरे जैसे युवा कलाकार के लिये अपनी पहली ही फिल्म में इतने सदाबहार महान कलाकारों के साथ काम करना सचमुच भाग्य की बात है। फिल्म के हीरो वीर दास के बारे में पायल कहती है,”वे तो इतने अच्छे कलाकार है जिन्हें एक्ट करते हुए एफर्ट ही नहीं लेना पड़ता है, वे लोगों के फनी हाव भाव पर पैनी नजर रखते है। यह फिल्म भंगड़ा वर्सेस गरबा का मजेदार मिश्रण है।” फिल्म के संगीत निर्देशक हैं ललित पंडित और उत्तंग वोहरा।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये