फिल्म ‘रॅार- टाइगर ऑफ़ द सुंदरबन’- बदले की कहानी

1 min


Roar-Movie-Wiki

 

लेखक निर्देशक कमल सदाना ने अपनी रोमांचक फिल्म ‘रॅार- टाइगर ऑफ़ द सुंदरबन’ में अंत तक ये स्पष्ट नहीं किया कि फिल्म बदले पर आधारित या टाइगर बचाव पर ।

सुंदरबन में एक किताब लिखने गये आर्मी मैन अभिनव शुक्ला के भाई का एक बाघिन इसलिये मार डालती है कि उसे लगता है उसके बच्चे को वो ले लाया है जबकि उसने उसे बच्चे को बचाया था । बाद में अभिनय अपने कुछ साथियों तथा लोकल टैªकर हिमर्सा के साथ सुदंरबन में उस बाघिन को मारने के लिये निकल पड़ता है । लेकिन बाघिन और उसके बाद साथ एक एक करके उसके सारे साथियों को मार डालती है । लेकिन वहीं का एक लोक आदमी सुब्रतो घोष जब उस बाघिन के बच्चे को मार डालना चाहता है तो अभिनव उसे बचाता है । बाद में बाघिन उसे और टेªकर कर को अपने साथियों से बचाती है ।

रॅार बेसिकली एक थ्रिलर फिल्म है ।और कितनी ही जगह फिल्म थ्रिल पैदा भी करती है । फिल्म किसी विदेशी फिल्म से प्रेरित है । फिल्म में तकरीबन सभी नये कलाकार है और उन्होंने अच्छा काम किया है । सुब्रतो घोष नगेटिव भूमिका में हैं उसने बढ़िया काम किया है । फिल्म में कोई गाना नहीं है। लेकिन बैकग्राउंड अच्छा है । जहां तक इस फिल्म की बात की जाये तो अभी बॉलीवुड में इस जोनर की फिल्मों का चलन नहीं है ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये