रियल लाइफ के जिगरी दोस्त रोहिताश्व गौड़ और विजय कुमार सिंह कहते हैं, ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेगें‘

1 min


जरूरत के समय जो काम आते हैं वही सच्चे दोस्त होते हैं! ‘बेस्ट फ्रेंड्स डे‘ के मौके पर आइये बात करते हैं ऐसी ही सच्ची दोस्ती के बारे में। ऐसी दोस्ती के बारे में जोकि लंबे समय से बनी हुई है और इससे कहीं आगे बढ़कर है। हम बात कर रहे हैं एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में मनमोहन तिवारी की भूमिका निभा रहे रोहिताश्व गौड़ और मास्टर भूप सिंह की भूमिका में विजय कुमार सिंह की। दोनों को एक-दूसरे से बेहद लगाव है और दोनों एक-दूसरे की बेहद इज्जत करते हैं।

उनका यह रिश्ता लंबे समय से साथ काम करने और पढ़ाई करने के दौरान बेहतर होता गया है। नेशनल स्कूल आॅफ ड्रामा के छात्र रहे रोहिताश्व गौड़, विजय कुमार सिंह के सीनियर रहे हैं। इतने लंबे अरसे से जान-पहचान होने के कारण यह पता लगाना आसान है कि इनकी केमेस्ट्री स्वाभाविक है। यह बात परदे पर भी बखूबी नजर आती है जिसकी वजह से ये आॅन-स्क्रीन और आॅफ-स्क्रीन बड़े कमाल की जोड़ी हैं! इनकी जुगलबंदी वाकई काफी मनोरंजक है, किसी के लिये भी भला इससे मजेदार जोड़ी और क्या हो सकती है। अपनी दोस्ती के बारे में, विजय कुमार सिंह उर्फ मास्टर भूप सिंह कहते हैं, ‘‘यदि रोहिताश्व दादा नहीं होते तो मैं ‘भाबीजी घर पर हैं‘ जैसे कल्ट शो का हिस्सा नहीं बन पाता। उन्होंने मेरे करियर में अहम भूमिका निभाई है और वो मेरे सच्चे दोस्त हैं। हम दोनों एक ही संस्थान से आये हैं, जहां मैंने उनकी कई सारी परफॉर्मेंस देखी है, जिन्हें देखकर मैं अवाक रह गया था। हमारे साथ को अब 15 साल से भी ज्यादा हो चुके हैं और हमने पहले भी साथ काम किया है। एक दिन मैं ऐसे ही उनसे मिलने गया था और उन्होंने मेरा परिचय ‘भाबीजी घर पर हैं‘ के डायरेक्टर से करवाया था और उन्होंने मुझे यह रोल दे दिया।

इतने मनोरंजक शो का हिस्सा बनकर मैं बहुत खुश हूं और इससे मुझे परदे पर अपने दादा के साथ दोबारा काम करने का मौका मिला। उनके साथ मेरी काफी सारी यादें हैं और सारी ही यादें बताती हैं कि वे कितने विनम्र स्वभाव के हैं। वे काफी सफल और प्रतिभावान सेलिब्रेटी हैं, लेकिन उन्होंने कभी भी प्रसिद्धि या कामयाबी को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया। एक बार उन्होंने सेट पर लाल रंग का सूट पहना था, जबकि संयोग से मैंने उसी रंग की पेंट पहनी हुई थी। उस दिन को याद रखने के लिये हमने काफी सारी तस्वीरें भी साथ में खिंचवाई। उनके लिये मेरे लगाव की कोई सीमा नहीं है और यही होती है सच्ची दोस्ती”

रोहिताश्व गोड़ उर्फ मनमोहन तिवारी कहते हैं, ‘‘विजय जमीन से जुड़े हुए इंसान हैं। मुझे पता है मैं हमेशा ही उनमें एक दोस्त को तलाश करूंगा। हम दोनों एक ही बैकग्राउंड से आये हैं, जिससे हमारा रिश्ता और भी गहरा हो गया। इतने सालों से उनके साथ काम करने का अनुभव बेहतरीन रहा है। मैंने उन्हें बेहतरीन परफाॅर्मर के रूप में बढ़ते हुए देखा है। मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि वे ‘भाबीजी घर पर हैं’ टीम का हिस्सा हैं और इस तरह हमें एक साथ ज्यादा वक्त बिताने और उसका सदुपयोग करने का मौका मिलता है।‘‘

देखिये, रोहिताश्व गौड़ और विजय कुमार सिंह की पक्की दोस्ती ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में रात 10.30 बजे हर सोमवार से शुक्रवार, केवल एण्डटीवी पर


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये