अभिनेत्री रुचिता जाधव ने मुंबई के व्यवसायी आनंद माने के साथ पंचगनी में रचाया विवाह

1 min


इन दिनों कोरोना महामारी की वजह से महाराष्ट्र में लाॅक डाउन की स्थिति है। विवाह के लिए सरकार की तरफ से 25 लोगों की मौजूदगी और दो घंटे में विवाह कार्यक्रम खत्म करने का नियम बनाया हुआ है। ऐसे हालात में भी मराठी टीवी सीरियल ‘‘लव लग्ना लोचा’ तथा ‘‘भूतचा हनीमून’’और ‘‘मानस एक माटी’’ जैसी कई मराठी भाषी फिल्मों की अभिनेत्री रूचिता जाधव ने मुंबई के व्यवसायी आनंद माने के साथ शादी के बंधन में बंध गयी। षादी का यह समारोह मंुबई से तकरीबन तीन सौ किलोमीटर दूर स्थित हिल स्टेषन पंचगनी में एक निजी बंगले में संपन्न हुआ।

इस अवसर पर रुचिता बहुत सहज व सुरुचिपूर्ण नजर आ रही थी। उन्होने इस खास मौके पर अपनी माँ की 35 वर्ष पहले की शादी की साड़ी में समकालीन टच देकर पहन रखी थी। रूचिता ने अपने लिए दुल्हन के नए कपड़े सिलवाने के बारे मेें सोचने की बनिस्बत इस कलात्मक व भावनात्मक विचार को प्रधानता दी।

रुचिता और आनंद हमेशा चाहते थे कि उनकी शादी एक जोड़े के रूप में,उनकी प्रेम कहानी से लेकर उनके जीवन मूल्यों तक को दर्शाती हो। महामारी ने दुनिया भर में जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है, और जबकि हम अपने घरों में आराम से बैठकर वायरस के प्रसार को रोकने में मदद कर सकते हैं। बहुत सारे लोग जिंदगी की जरुरतों को  पूरा करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए रुचिता और आनंद ने अपनी शादी समारोह को भव्यता प्रदान करने की बनिस्बत षादी के दिन गरीबों को 1500 पैकेट अनाज वितरित किया। इस तरह उन्होने अपनी शादी के उत्सव को असाधारण बनाने की बजाय कोविड के चलते परेषान लोगों की मदद को प्रधानता दी।

रुचिता अपने विचार साझा करते हुए कहती हैं-‘‘हम दोनों बहुत अलग-अलग व्यवसायों से संबंधित हैं, लेकिन भाग्य की अपनी योजनाएं थीं।प्रेम हमारे जीवन में अप्रत्याशित रूप से आने में कामयाब रहा।वास्तव में पिछले साल हमारे माता-पिता ने लॉकडाउन लागू होने से पहले मुझे आनंद से मिलवाया था। हमारी यह मुलाकात काफी साधारण थी।क्योंकि तब तक मैं शादी के लिए तैयार नहीं थी। लेकिन वह तुरंत बाहर जाकर खडे़ हो गए,यह एक तात्कालिक संबंध था,जिसने हमारे रिश्ते के लिए दिषा दी।‘‘

वह आगे कहती हैं-‘‘हमारी मुलाकतें बढ़ती,उससे पहले ही लॉकडाउन का बवंडर हो गया था। हम 6-7 महीनों तक एक-दूसरे से नहीं मिल पाए,लेकिन हमारे बीच फोन पर संपर्क बना रहा। एक बार जब लॉकडाउन समाप्त हो गया,तो मेरी षूटिंग फिर से शुरू हुई, तो मैंने जानबूझकर ऐसी फिल्में चुनी,जिन्हें करते हुए मैं आनंद से मिलने का वक्त निकाल पायी।मैं उन्हें दुनिया में सबसे ज्यादा प्यार करती हूं। लेकिन समय की जरूरत है और हमारे परिवार बहुत समझदार और सहयोगी थे। शुक्र है कि महामारी ने हमें सोचने का समय दिंया, दूरी ने हमें मजबूत बना दिया।सितारें अपना काम कर रहे थे।शादी की घंटियां बजने लगी थीं।अंततः दिसंबर 2020 में हमने शादी करने का फैसला किया। आनंद ने आधिकारिक रूप से पिछले महीने प्रस्तावित किया था और अब हम षादीषुदा है।’’

माना कि नवविवाहित जोड़े को अपनी शादी के उत्सव को बहुत साधारण तरीके से आयोजित करना पड़ा,मगर हालात बेहतर होने पर वह एक बड़ी पार्टी देकर जष्न मनाने की तमन्ना रखते हैं।

 

SHARE

Mayapuri