सलमान खान के फैंस के लिए ईद का दमदार तोहफा है ‘रेस 3’

1 min


3डी में रिलीज हुई फिल्म

लंबे इंतजार के बाद आखिरकार सलमान खान के फैंस का इंतजार खत्म हुआ। सलमान की ‘रेस-3’ आज देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। रेमो डिसूजा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘रेस 3’ में सलमान खान, बॉबी देओल, अनिल कपूर, जैकलीन,डेजी शाह और साकिब सलीम मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं। फिल्म में काफी एक्शन और स्टटं दिखाए गए हैं। वहीं, 3 डी में इस फिल्म को देखने का तो मजा ही कुछ और है। अनिल कपूर भी फुल एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। वहीं, बॉबी देओल भी एक नए अंदाज में नजर आए हैं। कुल मिलाकर फिल्म को एक बार तो जरूर देखा जा सकता है। फिल्म का क्लाइमैक्स जबरदस्त है। क्लाइमैक्स में ऐसा कुछ दिखाया गया है, जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा।

फिल्म में जबरदस्त एक्शन की भरमार

जैसा कि रेस की फ्रैंचाइजी के बारे में आप सभी जानते हैं। फिल्म ‘रेस-3’ दमदार एक्शन सीक्वेंसेज और बहुत सारे स्टंट्स से भरपूर है। अगर आप फिल्म में अच्छी कहानी देखना चाहते हैं, तो ये फिल्म आपको बिलकुल पसंद नहीं आएगी क्योंकि फिल्म का स्टोरी प्लॉट बहुत ही निराशाजनक है। हां, अगर आपको एक्शन फिल्में पसंद हैं तो ये फिल्म आपको जरूर पसंद आएगी। क्योंकि फिल्म में अगर कुछ खास है तो वो है एक्शन। फिल्म एक्शन से भरपूर है। फिल्म में सभी स्टार्स हर जगह खतरनाक एक्शन और स्टंट्स करते हुए नजर आ रहे हैं। 

कमजोर और बकवास डायलॉग्स

फिल्म के डॉयलॉग्स की अगर बात करें, तो आप अगर इस उम्मीद से ‘रेस-3’ देखने जा रहे हैं कि फिल्म एक्शन और स्टंट्स के साथ आपको मजबूत और दमदार डायलॉग्स भी सुनने को मिलेंगे तो भूल जाइए। ऐसा बिलकुल भी नहीं होने वाला। फिल्म के डायलॉग्स बेहद बकवास और बेकार हैं। जिन्हें सुनते वक्त कई जगह आपको ऐसा महसूस होगा कि ये बोल क्या रहे हैं। कई जगह तो ऐसे डायलॉग्स भी हैं जिनकी वहां जरूरत ही नहीं हैं। कुल मिलाकर ये कहना ज्यादा सही होगा कि फिल्म के डायलॉग्स बेहद बोरिंग हैं। फिल्म में आधी जगह तो अनिल कपूर और सलमान खान एक दूसरे से भोजपुरी भाषा में बात कर रहे हैं, जो कि काफी बकवास लग रहा है और उनके कैरेक्टर से बिलकुल मैच नहीं कर रहा है।

रेस फिल्म की पिछली दोनों हिट फ्रैंचाइजी के बाद इस बार ‘रेस’ की स्टारकास्ट लगभग पूरी बदल गई है। पहले की दोनों रेस के बाद ‘रेस-3’ में सिर्फ अनिल कपूर ही ऐसे हैं, जो इस बार भी रेस में हैं। इस बार डायरेक्टर अब्बास-मस्तान की बजाय ‘रेस 3’ को रेमो डिसूजा ने डायरेक्ट किया है। वहीं, सलमान की ‘रेस 3’ का पिछली दोनों फिल्मों से कोई लेना-देना नहीं है। ‘रेस-3’ की कहानी पहले की दोनों फिल्मों से बिलकुल अलग है।

क्या है फिल्म की कहानी

फिल्म की कहानी सबसे पहले शमशेर सिंह यानी अनिल कपूर से शुरू होती है, जो करीब 25 साल पहले भारत से एक साजिश का शिकार होकर अल शिफा आइसलैंड आ जाता है। वो अवैध हथियारों का बहुत बड़ा डीलर है। उसके बड़े भाई रणछोड़ सिंह का बेटा सिकंदर यानी सलमान खान उसका दायां हाथ है। बड़े भाई की एक एक्सिडेंट में मौत के बाद शमशेर ने अपनी भाभी से शादी कर ली थी, जिससे उसके दो जुड़वा बच्चे सूरज यानी साकिब सलीम और संजना यानी डेजी शाह हैं। फिल्म का एक और किरदार यश यानी बॉबी देओल जो कि सिकंदर का बॉडीगार्ड है। वहीं जेसिका यानी जैकलीन फर्नांडिस पहले सिकंदर की गर्लफ्रेंड थी, लेकिन फिर वो यश के साथ आ जाती है। Anil Kapoor

सिकंदर अपनी फैमिली के लिए जान देने के लिए तैयार रहता है, लेकिन उसके सौतेले भाई-बहन उससे नफरत करते हैं। वो यश को भी सिकंदर के खिलाफ भड़काकर अपनी ओर मिला लेते हैं। शमशेर वापस भारत जाना चाहता है और किस्मत से उसे एक मौका मिल जाता है। उसके मिशन को पूरा करने सिकंदर के साथ उसकी पूरी टीम कंबोडिया जाती है, जहां सूरज, संजना और यश उसे फंसा देते हैं। लेकिन वो जेसिका की मदद से बच जाता है। उसके बाद खुलते हैं कई ऐसे राज़ जिन्हें जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

‘रेस-3’ में सैफ अली खान को मिस करेंगे दर्शक

सलमान खान ने इस रेस में सैफ अली खान की जगह ली है। बेशक, वो काफी स्मार्ट लग रहे हैं और उन्होंने कई जबर्दस्त ऐक्शन सीन भी किए हैं, लेकिन सैफ के चाहने वाले रेस में उन्हें जरूर मिस करेंगे। शुरुआत और आखिर में सलमान के लिए कुछ सीन हैं, लेकिन कहानी के लेवल पर फ़िल्म एकदम बकवास है। खासकर फिल्म का फर्स्ट हाफ देखकर आपको लगेगा कि जैसे आप कोई सिंपल सी कहानी देख रहे हैं। लेकिन इंटरवेल से पहले है कहानी में अचानक ट्विस्ट आता है और वहीं से शुरु होता है रेस का सस्पेंस। फिर एक के बाद एक कहानी में ट्विस्ट आते हैं और एक एक करके फिल्म के हर किरदार का नया चेहरा सामने आता जाता है।

जैकलीन और डेजी शाह के एक्शन और स्टंट

वहीं फिल्म में आगर बाकी कलाकारों की बात करें, तो अनिल कपूर हमेशा की तरह ही इस बार भी लाजवाब हैं। जैकलीन और डेजी शाह ने भी अच्छे स्टंट सीन किए हैं। दोनों के बीच एक फाइट भी दिखाई गई जो थोड़ी बकवास भी है। साकिब सलीम ने भी फिल्म कई जगह एक्शन करते हुए नजर आ रहे हैं। बॉबी देओल ने शर्ट उतार कर कुछ ऐक्शन सीन किए हैं, लेकिन बिना एक्प्रेशन वाला उनका चेहरा उनकी ऐक्टिंग में उनका साथ नहीं दे रहा। वहीं फिल्म में विलेन बने फ्रेडी दारूवाला के होने का तो जैसे कोई मतलब ही नहीं है। क्योंकि रेस फैमिली में खुद ही इतने विलेन हैं कि फिल्म में विलेन के रूप में उनका होना तो न के बराबर है।   

फिल्म में बेहतरीन लोकेशंस

बैंकॉक और अबू धाबी की बेहतरीन लोकेशंस पर शूट की गई फिल्म बेशक आपको पसंद आएगी। फिल्म की सिनेमैटोग्राफी लाजवाब है। वहीं कश्मीर और लद्दाख की खूबसूरत लोकेशंस पर शूट किया रोमांटिक सॉन्ग भी ठीक ही है। एक-दो गानों को छोड़कर बाकी गाने फ़िल्म में जबरदस्ती ठूंसे हुए लगते हैं। खासकर बॉबी देओल और डेजी शाह पर फिल्माया गया सेल्फिश सॉन्ग तो समझ से परे है। जो बिना मतलब के फिल्म डाला गया है। वहीं फिल्म के क्लाइमैक्स के दौरान ही आपको पता चल जाएगा कि फिल्म का सीक्वल भी जरूर आएगा। लेकिन आपको बता दें कि ये फिल्म सिर्फ और सिर्फ सलमान के फैन्स के लिए है, जो सलमान खान के फैन हैं, ये फिल्म उनको बेशक पसंद आने वाली है। फिल्म एक बार देखने पर आपको पैसा वसूल लगेगी, लेकिन इस फिल्म को दोबारा आप बिलकुल नहीं देखना चाहेंगे।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये