संजय मिश्रा, जावेद जाफ़री, अंशुमन झा स्टारर शॉर्ट फिल्म ‘बुल्लेट प्रूफ आनंद’… इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न 2021 के लिए चुनी गयी

1 min


वैश्विक महामारी के कारण साल की एक और  हिचकोले खाती शुरुआत के बाद, अब इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न के 12वें एडिशन को लेकर उत्साह, सारी दुनिया भर के सिनेप्रेमियों में  बढ़ रहा है। वर्चुअल प्लस फिजिकल इवेंट 12 से 21 अगस्त तक सिनेमाघरों में और 15 से 30 अगस्त तक ऑस्ट्रेलिया में ऑनलाइन आयोजित किया जाएगा।

जैसे-जैसे ये त्योहार दिन-ब-दिन नजदीक आता जा रहा है, वहां प्रदर्शित होने वाली फिल्मों की कतार लगातार मजबूत होती जा रही है। इस इनक्रेडिबल सूची में नवीनतम जोड़ी अंशुमन झा, संजय मिश्रा और जावेद जाफरी की शॉर्ट फिल्म ’बुलेट प्रूफ आनंद’ है।

’बुलेट प्रूफ आनंद’ ब्रूस ली और राजेश खन्ना की आनंद को एक अनोखी श्रद्धांजलि है। आधिकारिक चयन के रूप में प्थ्थ्ड 2021 में मेलबर्न में फिल्म का प्रीमियर होगा। संजय मिश्रा और अंशुमन झा, दो पागल उत्तर भारतीय गुंडों की भूमिका निभाते हैं जो ब्रूस ली से प्रेरित हैं, फिल्म में जावेद जाफरी भी खूंखार गैंगस्टर बुलेटप्रूफ आनंद के रूप में हैं। आलोक शर्मा द्वारा निर्देशित, ये शॉर्ट फिल्म, नब्बे के दशक की बॉलीवुड गैंगस्टर फिल्म्स के लिए एक कॉमिक श्रद्धांजलि है। अंशुमन को आखिरी बार इस साल की शुरुआत में ज़रीन खान के साथ ’हम भी अकेले तुम भी अकेले’ में देखा गया था, जो उनके द्वारा निर्मित एक फिल्म भी थी।

आईएफएफएम में अपनी शॉर्ट फिल्म के चयन पर बोलते हुए, अंशुमन झा हमें बताते हैं, “बुलेट प्रूफ आनंद’ का इस फेस्टिवल में होना बहुत सम्मान और खुशी की बात है, एक ऐसी फिल्म जो सुपर स्पेशल और मेरे दिल के करीब है, जिसका प्रीमियर इस साल आईएफएफएम में होगा। यह फिल्म ’अंग्रेजी में कहते हैं’ के बाद दिग्गज कलाकार संजय मिश्रा के साथ मेरा दूसरा पेशकश भी है और मैं फेस्टिवल में दर्शकों की प्रतिक्रिया को देखने के लिए बहुत उत्साहित हूं।

समारोह में फिल्म के चयन पर संजय मिश्रा कहते हैं, “भारतीय फिल्म उद्योग पिछले एक दशक में कुछ ऐसी फिल्में बना रहा है जो पहले की तुलना में बहुत अधिक विभिन्न और मुख़्तलिफ़ हैं, और मेरा मानना है कि ’बुलेट प्रूफ आनंद’ उस श्रेणी में आती है। मैं आईएफएफएम 2021 में अपनी फिल्म स्क्रीन के साथ-साथ अन्य इनक्रेडिबल फिल्मों को देखने के लिए बहुत उत्साहित हूं, जिन्होंने इस साल लाइन-अप में जगह बनाई है।”

निर्देशक आलोक शर्मा कहते हैं, “इस साल आईएफएफएम में हमारी शॉर्ट फिल्म के चयन ने पूरी टीम को बहुत गर्वित किया है। मैं फेस्टिवल का हिस्सा बनने के लिए बहुत उत्साहित हूं, खासकर फिल्मों की उत्कृष्ट गुणवत्ता और वहां होने वाली चर्चाओं के कारण, जो मेरे जैसे सिनेप्रेमियों के लिए स्वर्ग है। यह देखने के लिए मैं बेसब्र हूं कि इस तरह के एक बड़े मंच पर हमारी फिल्म को किस तरीके से पसंद किया जाता है।”

SHARE

Mayapuri